IMD Alert: महाराष्ट्र सहित 10 राज्यों में 9 अगस्त तक भारी बारिश, पश्चिमी विक्षोभ से दिल्ली सहित इन राज्यों में बदलेगा मौसम, 3 सिस्टम सक्रिय, जानें UP-बिहार पर पूर्वानुमान

IMD Alert, Today Weather Update : देश के मौसम में बदलाव का असर लगातार देखा जा रहा है। बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। इसके अलावा अन्य राज्यों में भी भारी बारिश की चेतावनी जारी करते हुए अलर्ट जारी किया गया है। मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ के कई क्षेत्रों में आज भी तेज बारिश का पूर्वानुमान जताया गया है।

मौसम विभाग के मुताबिक मानसून फिलहाल झारखंड और उड़ीसा में सक्रिय है। ऐसे में आसमान में बादल छाए रहेंगे। तापमान में गिरावट होने के साथ ही तेज हवा चलने का भी पूर्वानुमान जताया गया। 20 से 25 किलोमीटर की रफ्तार से हवा चलेगी। जबकि उत्तर प्रदेश के 17 से अधिक जिलों में अति तेज बारिश का रेड ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल सकती है। मौसम विभाग द्वारा लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी गई है। हिमाचल उत्तराखंड में भारी बारिश की गतिविधि जारी रहने वाली है।

मौसम अलर्ट

  • मध्य प्रदेश में बहुत भारी वर्षा के साथ कुछ स्थानों पर अत्यधिक भारी वर्षा संभव है।
  • देश के बाकी हिस्सों में बिजली गिरने की संभावना के साथ छिटपुट वर्षा हो सकती है।
  • अरुणाचल प्रदेश, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, ओडिशा, पूर्वी उत्तर प्रदेश, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, पंजाब, हिमाचल प्रदेश, पूर्वी राजस्थान, विदर्भ और तटीय कर्नाटक में अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है।
  • पश्चिमी उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, कोंकण, गोवा, मध्य महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ के अलग-अलग स्थानों पर बहुत भारी बारिश हो सकती है।
  • अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, पूर्वोत्तर भारत, गंगीय पश्चिम बंगाल, ओडिशा, झारखंड, पूर्वी उत्तर प्रदेश, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, हिमाचल प्रदेश, पश्चिम मध्य प्रदेश, मध्य महाराष्ट्र, केरल और माहे में काफी व्यापक बारिश और तूफान आ सकते हैं।
  • उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पूर्वी मध्य प्रदेश, कोंकण, गोवा, विदर्भ, छत्तीसगढ़ और तटीय कर्नाटक में व्यापक बारिश और तूफान की संभावना है।
  • तमिलनाडु, पुडुचेरी और कराईकल में अलग-अलग स्थानों पर अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से ऊपर पहुंचने की संभावना है।

बंगाल की खाड़ी में बन रहे कम दबाव के क्षेत्र

बता दें कि बंगाल की खाड़ी में बन रहे कम दबाव के क्षेत्र झारखंड के ऊपर निर्मित हुए हैं। ऐसे में इन क्षेत्रों में तेज बारिश देखी जा सकती है। वहीं हिमालय पर पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हुआ पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने के कारण एक बार फिर से उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, हिमाचल, जम्मू कश्मीर, लेह, लद्दाख, दिल्ली, हरियाणा, पंजाब, राजस्थान में मौसम में महत्वपूर्ण बदलाव देखने को मिल सकते हैं।

मौसम प्रणाली

  • मौसम प्रणाली की बात करें तो मानसून रेखा हिमालय की तलहटी पश्चिम बंगाल और झारखंड में अपनी सामान्य स्थिति से दक्षिण की ओर आगे बढ़ रही है इसका पश्चिमी छोर अगले कुछ दिनों में दक्षिण की ओर बढ़ने के संकेत दे रहा है।
  • वहीं झारखंड के ऊपर बना एक दबाव का क्षेत्र पश्चिम की ओर धीरे-धीरे पूर्वी मध्य प्रदेश की तरफ आगे बढ़ रहा है। अगले कुछ दिन में इसके धीरे-धीरे कमजोर होकर एक कम दबाव के क्षेत्र में तब्दील होने की संभावना जताई जा रही है।
  • इन प्रणालियों के कारण 3 अगस्त को मध्यप्रदेश में बहुत भारी बारिश के साथ अलग-अलग स्थानों पर अत्यधिक भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ रही रेखा के कारण उत्तराखंड और हिमाचल में 5 से 7 अगस्त के बीच अति तेज बारिश का पूर्वानुमान जताया गया है।
  • वही अरब सागर से आने वाली पश्चिम धाराओं के कारण कम से कम अगले 5 दिनों तक मुंबई सहित कोकन में तेज बारिश का पूर्वानुमान जताया गया है। रुक-रुक कर हो रही बारिश के कारण मौसम सुहावना बना रहेगा। 3 अगस्त से 7 अगस्त के बीच कोकन को और मध्य महाराष्ट्र में बहुत अधिक बारिश की चेतावनी जारी की गई है।

इन क्षेत्रों में अलर्ट

मौसम विभाग द्वारा उत्तराखंड के 5 जिलों में अति तेज बारिश का पूर्वानुमान जताते हुए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। फिलहाल 1 सप्ताह तक बारिश की गतिविधि जारी रहने वाली है 5 अगस्त को कई क्षेत्रों में बहुत भारी बारिश का पूर्वानुमान जताया गया है। नैनीताल, चंपावत, बागेश्वर में अलर्ट जारी किया गया है। इसके अलावा उधम सिंह नगर, बागेश्वर, पिथौरागढ़ में भी आज बारिश की चेतावनी जारी की गई है।

हिमाचल में भी पूरे 7 दिन तक भारी बारिश 

मौसम विभाग के मुताबिक हिमाचल में भी पूरे 7 दिन तक भारी बारिश के कहर जारी रहने वाले हैं। अगले 3 दिन तक हिमालय के कई क्षेत्रों में ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।5 जिले में अतिरिक्त बारिश की चेतावनी जारी की गई है। 7 अगस्त तक बारिश का दौर जारी रहने वाला शिमला और आसपास के इलाके में हल्की धूप खिली रहेगी। आसमान में बादल छाए रहेंगे जबकि चंबा कुल्लू उना हमीरपुर किन्नौर में येलो अलर्ट जारी किया गया है। इसके अलावा कांगड़ा मंडी बिलासपुर शिमला सोलन सिरमौर और चंपा में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है।

राजस्थान के कुछ हिस्से में आज बारिश की चेतावनी

राजस्थान के कुछ हिस्से में आज बारिश की चेतावनी जारी की गई है जबकि उत्तराखंड में बहुत तेज बारिश का पूर्वानुमान जताया गया है। 10 राज्य और केंद्र शासित प्रदेश में अत्यधिक भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने की वजह से जम्मू कश्मीर, लद्दाख, हिमाचल, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा ,चंडीगढ़, दिल्ली और पश्चिम उत्तर प्रदेश सहित पूर्वी राजस्थान में 7 अगस्त तक भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है।

महाराष्ट्र और MP में भारी-अत्यधिक भारी बारिश की चेतावनी

इधर बंगाल की खाड़ी में बने कम दबाव के क्षेत्र की वजह से उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल, उड़ीसा पूर्वोत्तर के कई राज्य सहित महाराष्ट्र और मध्य प्रदेश में कहीं भारी तो कहीं अत्यधिक भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। झारखंड में कम दबाव का क्षेत्र निर्मित होने की वजह से अगले 4 दिनों तक उड़ीसा, झारखंड, पश्चिम बंगाल के गंगा किनारे वाले क्षेत्र बिहार, छत्तीसगढ़, पूर्वी और पश्चिमी मध्य प्रदेश सहित पूर्वी उत्तर प्रदेश में अत्यधिक बारिश होने की संभावना जताई गई है। मध्य प्रदेश में 7 अगस्त तक भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया गया है जबकि उत्तराखंड पश्चिमी उत्तर प्रदेश छत्तीसगढ़ मध्य महाराष्ट्र में ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

आंध्र प्रदेश तेलंगाना में आसमान में हल्के बादल

तेलंगना रायलसीमा अंडमान निकोबार दीप समूह सहित केरल कर्नाटक तमिलनाडु में हल्की बारिश देखने को मिल सकती है। कई स्थानों पर तापमान में इजाफा देखने को मिल सकता है। इसके अलावा मौसम विभाग दक्षिण भारत के कई क्षेत्रों में तापमान बढ़ने की भी चेतावनी जारी की है। आंध्र प्रदेश तेलंगाना में आसमान में हल्के बादल छाए रहेंगे।

पूर्वी राज्यों में भारी बारिश की चेतावनी 

पूर्वी राज्यों की बात करें तो असम मेघालय मणिपुर नागालैंड मिजोरम सहित पूर्वोत्तर के क्षेत्र में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। इन क्षेत्रों में बारिश का कहर फिलहाल जारी रहने वाला है। गर्जना के साथ भूस्खलन की भी चेतावनी जारी की गई है। अधिकतम तापमान 22 जबकि न्यूनतम तापमान 18 डिग्री सेल्सियस रहने का पूर्वानुमान जारी किया गया है।


About Author
Kashish Trivedi

Kashish Trivedi

Other Latest News