लाखों कर्मचारियों के लिए नई अपडेट, सर्विस बुक होगी तैयार, प्रक्रिया शुरू, जानें कैसे मिलेगा लाभ?

सेवा पुस्तिका के लिए सभी संविदा कर्मियों को निर्धारित फॉर्मेट के तहत अंगूठे सहित हाथ की पांचों अंगुलियों की छाप देनी होगी।

government employees news
DEMO PIC

पटना, डेस्क रिपोर्ट। बिहार के 4 लाख संविदा कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर है। राज्य सरकार के फैसले के बाद नियमित सरकारी कर्मचारियों की तरह संविदा कर्मचारियों की सेवा पुस्तिका (सर्विस बुक) तैयार करने का काम शुरू हो गया है।मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इसके तहत राज्य सरकार सचिवालय से लेकर जिला कार्यालयों में संविदा पर काम करने वाले सभी राज्य कर्मचारियों का डेटाबेस तैयार किया जाएगा।संविदा कर्मचारियों की सेवा पुस्तिका तैयार करने की जिम्मेदारी संबंधित विभाग और कार्यालय को दी गयी है। हर विभाग में इसके लिए अलग से नोडल पदाधिकारी बनाये गये हैं।

यह भी पढ़े.. MP: लापरवाही पर बड़ी कार्रवाई, पंचायत सचिव समेत 12 कर्मचारी निलंबित, 23 को कारण बताओ नोटिस

इसमें सेवा पुस्तिका में संविदा कर्मी का नाम, स्थायी पता, पिता का नाम, राष्ट्रीयता, एससी-एसटी से होने पर उसका ब्योरा, जन्मतिथि, आधार नंबर, शैक्षणिक योग्यता, लंबाई, शरीर पर पहचान के चिह्न, योजना- परियोजना का नाम, संविदा नियोजन की अवधि आदि की जानकारी रहेगी, इसे हर पांच वर्ष पर अपडेट किया जायेगा।इसके तहत जिला से लेकर विभाग स्तर पर सभी संविदा कर्मचारियों की अलग से सेवा पुस्तिका तैयार की जायेगी। इसमें नियोजन से लेकर लिये जाने वाले अवकाश का पूरा रिकॉर्ड रखा जायेगा।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, सेवा पुस्तिका के लिए सभी संविदा कर्मियों को निर्धारित फॉर्मेट के तहत अंगूठे सहित हाथ की पांचों अंगुलियों की छाप देनी होगी।सभी स्तर के नियोजित कर्मियों की सेवा पुस्तिका अपडेट करना होगा।राज्य के विभिन्न विभागों में सभी स्तर के संविदा कर्मचारियों की संख्या लगभग 4.50 लाख है।इस संबंध में पहले ही सामान्य प्रशासन विभाग (General Administration Department) ने सभी विभागों के प्रमुख, पुलिस महानिदेशक, प्रमंडलीय आयुक्त और जिलाधिकारी को इससे संबंधित आदेश जारी किया जा चुका है।

यह भी पढ़े.. हजारों पेंशनरों के लिए अच्छी खबर, पोर्टल पर डाटा अपलोड, जल्द खाते में आएगी पेंशन राशि

इस सर्विस बुक में नियोजित कर्मियों के सेवा से जुड़ा पूरा रिकॉर्ड रहेगा, जिसे समय समय पर अपडेट और मेंटेन किया जाएगा। सभी विभागों को इसका पालन अनिवार्य रूप से करना होगा। इसमें भी कर्मियों से जुड़ी तमाम जानकारी दर्ज होगी। इससे नियोजित कर्मचारियों को कई लाभ होंगे और सरकार के पास भी उनका पूरा डाटा उपलब्ध रहेगा।सामान्य प्रशासन विभाग ने जनवरी 2021 में संविदा के आधार पर नियोजन की प्रक्रिया एवं मार्गदर्शक सिद्धांत को लेकर संकल्प जारी किया है, सेवा पुस्तिका तैयार किये जाने को लेकर जनवरी 2022 में सभी विभागों को फॉर्मेट तैयार कर भेजा गया।