अभी रहना होगा 6 से 8 हफ़्ते तक सतर्क, वरना फेस्टिव सीजन के बाद कोरोना फिर बढ़ा सकता है परेशानी

दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के साथ ही फेस्टिव सीजन की भी अगले कुछ दिनों में शुरुआत होनें जा रही है। हालांकि पूरे देश में जिस तेजी से कोविड वेक्सीनेशन हुआ है, उसके बाद संभावना जताई जा रही है कि कोरोना का असर अब तीसरी लहर में कम होगा लेकिन जानकारों की माने तो अभी भी संकट टला नही है, और अगर सावधानी नही बरती गई तो एक बार फिर कोरोना कहर बरपा सकता है, इसलिए जरूरी है कि अगले 6 से 8 हफ्ते गाइडलाइन का पालन किया जाए।

मोदी सरकार का बड़ा फैसला, PF सहित इन योजनाओं को लेकर आई बड़ी अपडेट

एम्स के डायरेक्टर डॉ. रणदीप गुलेरिया ने कहा है कि फेस्टिवल के नाम पर लोग लापरवाही न बरतें। संक्रमण को फिर से और फैलने का मौका नहीं देना चाहिए। अब नहीं तो कब कहेंगे कि फेस्टिवल के नाम पर कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने नहीं देंगे। यही मौका है। सबको एक साथ मिलकर कम्युनिटी स्तर पर कोविड बिहेवियर का पालन करना चाहिए। अगर, अगले 6-8 हफ्ते सख्ती से कोविड बिहेवियर का पालन करने में सफल रहे तो पूरी उम्मीद है कि बहुत जल्द इस महामारी से बाहर निकल आएंगे और अगले साल पूरे उत्साह के साथ नॉर्मल लाइफ जिएंगे और फेस्टिवल भी मनाएंगे।

जल्द ही शादी के बंधन में बंधने जा रही हैं Mouni Roy, जानिए कौन है जिसके साथ लेंगी सात फेरे

डॉक्टर गुलेरिया ने कहा कि बंद जगह में ज्यादा खतरा है। खासकर जहां पर एक बंद कमरे में बहुत ज्यादा लोग हों तो एक भी आदमी संक्रमित होने पर बाकी सबके लिए खतरा हो सकता है। इन चीजों से बचना होगा। हर किसी को यह सोचना होगा कि महामारी गई नहीं है। इसे खत्म करना है। इसके लिए सभी को एकसाथ आना होगा।

उम्र में 17 साल बड़ा था पति, लोगों के सामने आती थी शर्म, तो पत्नी के गला दबाकर कर दी हत्या !

डॉ. गुलेरिया ने अपने फेसबुक लाइव कार्यक्रम जिसे अब नही तो कब नाम दिया गया था में कहा कि अगर हम सभी अगले 6 से 8 हफ्ते तक संयम से रहें और नियमों का पालन करते रहें तो पूरी उम्मीद है कि जब फेस्टिवल खत्म होगा इस महामारी से बाहर निकल सकते हैं। अगले साल तक नॉर्मल लाइफ जी सकेंगे। अब से कुछ दिनों बाद नवरात्र, दुर्गा पूजा, दीवाली और फिर छठ पूजा है, ऐसे में लोगो को सावधानी बरतनी जरूरी होगी।