Pitbull ने मालकिन को नोंच-नोंच कर मार डाला, टहलाने के दौरान किया हमला

घटना उत्तर प्रदेश के लखनऊ के कैसरबाग थाना क्षेत्र की है, जहां एक शख्स ने घर की सुरक्षा के लिए पिटबुल कुत्ता पाल रखा था। इस बीच उसकी मां सुशीला पालतू पिटबुल को टहलाने के लिए छत पर लेकर आई थी और इस दौरान उसने अपनी मालकिन पर हमला बोल दिया, 80 वर्षीय महिला दर्दनाक मौत हो गई।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। कुत्ते को इस दुनिया में इंसान से भी ज्यादा वफादार होने का तमगा मिला हुआ है और सच कहे तो ऐसा है भी, ये प्रजाती अपने मालिकों को कितना दुलार करती है, इस तरह के कई उदाहरण हमारे सामने आय दिन आते रहते है, इसलिए ही शायद इंसान भी कुत्ते से इतना लगाव रखते है। लेकिन एक कुत्ते को पालने से पहले व्यक्ति को उसकी नस्ल जानना बहुत जरुरी है क्योंकि इस प्रजाती में बहुत सारी नस्ल के कुत्ते आक्रामक व्यवहार के भी होते है, जो कभी-कभी अपने मालिक पर ही हमला बोल देते है।

ऐसा ही एक पालतू कुत्ते द्वारा हमले का मामला सामने आया है, जहां उसने अपनी मालकिन को ही नोंच-नोंच कर मार डाला।

दरअसल, घटना उत्तर प्रदेश के लखनऊ के कैसरबाग थाना क्षेत्र की है, जहां एक शख्स ने घर की सुरक्षा के लिए पिटबुल कुत्ता पाल रखा था। इस बीच उसकी मां सुशीला पालतू पिटबुल को टहलाने के लिए छत पर लेकर आई थी और इस दौरान उसने अपनी मालकिन पर हमला बोल दिया, 80 वर्षीय महिला की दर्दनाक मौत हो गई।

ये भी पढ़े … श्रीलंका में बेकाबू हुए हालात, इमरजेंसी लागू, कार्यवाहक राष्ट्रपति बने रानिल विक्रमसिंघे

जानकारी के मुताबिक, मृतक अपने बेटे अमित त्रिपाठी के साथ लखनऊ के कैसरबाग के बंगाली टोला इलाके में रहती है। महिला का बेटा अमित त्रिपाठी अलीगंज स्थित कपूरथला पर जिम में ट्रेनर है। सुशीला पिटबुल को छत पर टहला रही थीं तभी पिटबुल के गले में बंधी हुई चेन खुल गई इसके बाद पिटबुल ने अचानक सुशीला पर हमला कर दिया।

इस दौरान बुजुर्ग महिला अपनी जान बचाने के लिए चीखने-चिल्लाने लगी, लेकिन उस समय घर पर कोई नहीं था। पिटबुल के काटने से उनका पेट, सिर और चेहरा बुरी तरह लहुलूहान हो गया था।

कुछ देर बाद जब नौकरानी घर आई तो सुशीला को जमीन पर लहुलुहान देखकर उसने अमित को इस बारे में जानकारी दी। वह घर आया और खून से लथपथ मां को हॉस्पिटल लेकर गया, लेकिन वहां उनको बचाया नहीं जा सका। डॉक्टर्स ने कहा कि ज्यादा खून बहने की वजह से महिला की मौत हुई।

ये भी पढ़े … लापरवाही पर एक्शन, पंचायत सचिव समेत 5 निलंबित, रोजगार सहायक की सेवा समाप्त, 4 कर्मचारियों को नोटिस

कैसरबाग थाना अध्यक्ष ने बताया कि 80 वर्षीय रिटायर्ड टीचर पर उसके पिटबुल कुत्ते ने हमला कर दिया था। कुत्ते ने इतनी बेहरमी से नोंचा कि महिला का मांस तक अलग हो गया। हमले के समय महिला घर पर अकेली थी। उनका जिम ट्रेनर बेटा जिम गया हुआ था। पति की पहले ही मौत हो चुकी है।

आक्रामक व्यवहार की होती है पिटबुल नस्ल

पिटबुल को बहुत ही आक्रामक व्यवहार की नस्ल माना जाता है। एक रिपोर्ट के अनुसार, पिट बुल कुत्तों की आबादी का केवल 6% है, लेकिन वे 1982 से कुत्तों के हमलों के 68% और कुत्तों से संबंधित 52% मौतों के लिए जिम्मेदार हैं।