राहुल गाँधी का बड़ा ऐलान, “कांग्रेस सत्ता में आई तो गरीबों को देंगे न्यूनतम आय की गारंटी”

-Rahul-Gandhi's-big-announcement

रायपुर। कर्जमाफी की घोषणा के बाद बीजेपी के हाथ से तीन राज्यों में सत्ता छीनने के बाद अब कांग्रेस की नजर लोकसभा चुनाव पर है| कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गाँधी ने बड़ा दांव चला है| लोकसभा चुनाव से पहले उन्होंने गरीबों के लिए नई योजना का ऐलान किया। सोमवार को छत्तीसगढ़ में राहुल ने ऐलान किया कि अगर 2019 में कांग्रेस सत्ता में आई तो देश में हर एक गरीब को न्यूनतम आय की गारंटी दी जाएगी। राहुल ने कहा कि यह ऐतिहासिक कदम है और इससे गरीबी और भुखमरी को खत्म करने में मदद मिलेगी।

 कृषि ऋण मुक्ति कार्यक्रम में आए राहुल ने वादा किया है कि केंद्र में कांग्रेस की सरकार बनने पर मिनिमम इनकम गारंटी स्कीम (न्यूनतम वेतन सुरक्षा योजना) लागू की जाएगी। यह स्कीम गरीबों के लिए होगी। सरकार गरीबों के खाते में न्यूनतम राशि डालेगी, वह राशि कितनी होगी, राहुल ने इसकी विस्तृत जानकारी नहीं दी। कार्यक्रम में सम्बोधित करते हुए राहुल ने  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह पर निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा देश को दो हिंदुस्तान बनाना चाह रही है। एक हिंदुस्तान देश के चुनिंदा उद्योगपतियों का और दूसरा गरीबों का बनाना चाहती है, लेकिन हम गरीबों, मजदूरों और किसानों के साथ खड़े है| कांग्रेस देश को दो हिस्सों में बंटने नहीं देगी।

राहुल गांधी ने कहा जब हम विपक्ष में थे तब भी हम किसानों के कर्जा माफ की बात करते थे और सरकार से पूछते थे, तो सरकार कहती थी हमारे पास पैसा नहीं है, हम ये काम नहीं कर सकते| उन्होंने कहा, हिन्दुस्तान के चौकीदार के पास छत्तीसगढ़ के किसानों के लिए 6000 करोड़ रुपये नहीं है, लेकिन अनिल अंबानी के लिए 30,000 करोड़ रुपये है|  मेहुल चोकसी पैसा लेकर भाग सकता है, लेकिन किसानों के लिए केंद्र सरकार के पास नहीं है| कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, आपने देखा, जो मैं कहता हूं, वो करके दिखाता हूं। फिर चाहे किसानों की कर्जमाफी हो, अधिग्रहित जमीन वापस करने का मामला हो। कांग्रेस ने मनरेगा में 100 दिन रोजगार दिया। सूचना का अधिकार दिया। अब हम ऐसा कदम उठाने जा रहे हैं, जो दुनिया की किसी सरकार ने नहीं किया। हमने फैसला किया है कि देश के हर गरीब को 2019 के बाद कांग्रेस सरकार न्यूनतम आय की गारंटी देने जा रही है। वहीं, छत्तीसगढ़ में 15 साल में भाजपा की सरकार जो काम नहीं कर पाई, उसे कांग्रेस सरकार ने चौबीस घंटे के भीतर कर दिखाया। उन्होंने छत्तीसगढ़ की जनता से वादा किया कि प्रदेश केवल धान का कटोरा नहीं रहेगा। यहां का अनाज, सब्जी और फल दुनिया के हर शहर के डायनिंग रूम तक पहुंचेंगे। इसके लिए फूड प्रोसेसिंग प्लांट और कोल्ड स्टोरेज का जाल बिछाया जाएगा। राज्य में कांग्रेस को मिली जीत के बाद राहुल का यह पहला दौरा था। राहुल की इस रैली को छत्तीसगढ़ में लोकसभा चुनाव का शंखनाद माना जा रहा है।