School Holidays : छात्रों के लिए बड़ी खुशखबरी, गर्मी को देखते हुए 31 मई तक बंद रहेंगे सभी स्कूल, पढ़ें यह खबर

School Holidays : अत्यधिक गर्मी के कारण बालवाटिका से लेकर बारहवीं तक के सभी स्कूलों को 31 मई तक बंद रखने का निर्णय लिया है। आठवीं कक्षा तक के विद्यार्थियों के लिए इससे पहले 24 मई तक अवकाश की घोषणा की गई थी, जिसे अब बढ़ाकर 31 मई कर दिया गया है।

School Holidays : प्रशासन ने अत्यधिक गर्मी के कारण हरियाणा में बालवाटिका से लेकर बारहवीं तक के सभी स्कूलों को 31 मई तक बंद रखने का निर्णय लिया है। उपायुक्त प्रदीप दहिया ने गर्मी के तीव्र प्रकोप को देखते हुए यह आदेश जारी किया है। दरअसल, आठवीं कक्षा तक के विद्यार्थियों के लिए इससे पहले 24 मई तक अवकाश की घोषणा की गई थी, जिसे अब बढ़ाकर 31 मई कर दिया गया है।

व्हाट्सएप ग्रुप के माध्यम से भेजा संदेश:

दरअसल गर्मी के मौसम में तापमान अत्यधिक बढ़ जाने के कारण बच्चों का ही नहीं बड़ों का भी घर से बाहर निकलना मुश्किल हो गया है। वहीं ऐसे में स्कूलों को बंद करने का फैसला छात्रों के स्वास्थ्य और सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए लिया गया है। इससे छात्रों को राहत मिलेगी और वे घर पर सुरक्षित रह सकेंगे। जानकारी के अनुसार इसे लेकर शिक्षकों ने छात्रों को व्हाट्सएप ग्रुप के माध्यम से संदेश भेजा है कि वे घर पर रहकर अपने आप को सुरक्षित रखें और लू से बचाते हुए अपना अध्ययन करें। शिक्षकों ने छात्रों को नियमित तौर पर होमवर्क भेजने का आश्वासन भी दिया है, ताकि उनकी पढ़ाई में कोई बाधा न आए।

शिक्षकों ने दी बच्चों को सलाह:

इसके साथ ही शिक्षकों ने यह भी सलाह दी है कि सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक कोई भी छात्र घर से बाहर न निकले। यदि बाहर जाना जरूरी हो तो सिर पर कपड़ा अवश्य ढककर रखें और बार-बार पानी पिएं। इसके साथ ही बच्चों को तली हुई या बाजार से खरीदी गई खाद्य सामग्री का सेवन करने से बचने की भी सलाह दी गई है।

गांव के तालाब या बड़ी नहर में नहाने से भी परहेज करें, क्योंकि गर्मियों में डूब जाने की घटनाएं अधिक होती हैं। लंबी दूरी का सफर करने के लिए यातायात के सुरक्षित साधनों का प्रयोग करें।

31 मई तक सभी सरकारी और निजी स्कूल बंद करने के आदेश:

जानकारी के अनुसार बाल वाटिका से बारहवीं कक्षा तक के छात्रों के अवकाश को उपायुक्त प्रदीप दहिया ने 31 मई तक बढ़ाने के आदेश भी जारी कर दिए हैं। दरअसल इससे पहले 24 मई तक यह अवकाश केवल आठवीं कक्षा तक के छात्रों के लिए घोषित किया गया था। वहीं इस विषय में उपायुक्त ने जिला शिक्षा अधिकारी और जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी को आदेश दिए हैं कि वे सुनिश्चित करें कि जिले के सभी सरकारी, अर्धसरकारी और निजी स्कूलों में बाल वाटिका से लेकर बारहवीं कक्षा तक के छात्रों के लिए अवकाश लागू हो।


About Author
Rishabh Namdev

Rishabh Namdev

मैंने श्री वैष्णव विद्यापीठ विश्वविद्यालय इंदौर से जनसंचार एवं पत्रकारिता में स्नातक की पढ़ाई पूरी की है। मैं पत्रकारिता में आने वाले समय में अच्छे प्रदर्शन और कार्य अनुभव की आशा कर रहा हूं। मैंने अपने जीवन में काम करते हुए देश के निचले स्तर को गहराई से जाना है। जिसके चलते मैं एक सामाजिक कार्यकर्ता और पत्रकार बनने की इच्छा रखता हूं।