भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। चुनाव मतदाताओं का क्रिसमस है। इस त्यौहार में उम्मीदवार वो  ‘सांता क्लॉस’ होता है जो मतदाताओं को मनचाहे उपहार देने का वादा करता है। अब भले वो उपहार वास्तव में दिए जाए या नहीं, लेकिन वादे तो होते ही हैं। ऐसे ही कुछ अजब गजब वादे किए हैं तमिलनाड़ू के एक उम्मीदवार ने।

तमिलनाड़ू (Tamilnadu) में मदुरै से निर्दलीय उम्मीदवार (Independent candidate) थुलम सर्वनन (Thulam sarvanan) ने कहा है कि 6 अप्रैल को होने वाले विधानसभा चुनाव के मतदान में अगर जनता ने उन्हें जिताया तो वो सभी को एक करोड़ रूपये कैश देंगे। बात यहीं नहीं थमी है..कैश के साथ हेलीकॉप्टर, शादी में लड़कियों को 800 ग्राम सोने के जेवर, आईफोन, कार, नाव, रोबोट दिया जाएगा। सर्वनन ने अपने चुनावी घोषणापत्र में वादा किया है कि वो सभी को एक आलीशान मकान देंगे, जिसमें स्विमिंग पूल भी होगा। अगर आप इतने में ही चकरा गए हैं तो अभी रूकिये। वो अपने क्षेत्र में एक अंतरिक्ष अनुसंधान केंद्र भी स्थापित करेंगे, रॉकेट लॉन्च पैड बनाएंगे साथ ही 300 फीट ऊंचाई पर एक कृत्रिम बर्फ का पहाड़ (आइसबर्ग) भी बनाएंगे। गृहिणियोंं को जहां वो काम में मदद के लिए रोबोट देने का वादा कर रहे हैं, वहीं युवाओं को लुभाने के लिए तो उनकी स्कीम ने हर रिकॉर्ड तोड़ दिया है। युवाओं को वो एक एक आईफोन देने के साथ हर साल 100 दिन के टूर पर ले जाने का सपना दिखा रहे हैं। और ये टूर कश्मीर, शिमला, स्विट्जरलैंड या पेरिस का नहीं..बल्कि चांद का होगा। अब जितने हसीन इनके वादे हैं, उतना ही अनोखा इनका चुनाव चिन्ह भी है, जो कि एक डस्टबिन है।

ये भी देखिये – कोरोना पर भारी पड़ी परंपरा, भगोरिया पर्व पर जमकर उमड़ रही भीड़

दरअसल, 34 साल के सर्वनन ये सारी घोषणाएं जनता को जागरूक करने के लिए कर रहे हैं। उनका कहना है कि उन्होने चुनाव के लिए 20 हजार रूपये प्रतिमाह किश्त पर कर्ज लिया है, नामांकन पर 10 हजार रूपये लगाए हैं। दक्षिण मदुरै में 2 लाख 30 हजार वोटर हैं और ऐसे में अगर 5 हजार युवा भी चुनावी मैदान में उतरते हैं और हर किसी को 50 वोट भी मिलता है तो कोई बड़ी पार्टी यहां से जीत नहीं पाएगी। आजकल राजनीतिक दल लोगो को तरह तरह के प्रलोभन देते हैं, लेकिन कोई भी शुद्ध हवा शुद्ध पानी या रोजगार का वादा नहीं करता। लोगो को जागरूक करने के लिए ही उन्होने इस तरह के अव्यावहारिक घोषणा पत्र का वादा किया है, जिससे लोग समझें कि चुनावी वादे सिर्फ कागजी वादे होते हैं और किसी लालच में आकर वोट न करें।