पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर की पति की हत्या, बाल्टी में भरा खून हाथ काटा

गाजियाबाद, डेस्क रिपोर्ट। पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या की योजना बनाई। जब पति सो गया तब प्रेमी भीतर आया और उसके सिर में गोली मार दी। खून न फैले इसके लिए पहले ही सिर के नीचे बाल्टी रख दी गई थी। मृतक के हाथ में एक कड़ा था, जिसपर उसका नाम लिखा था। काफी कोशिश के बाद भी वो नही निकला तो कुल्हाड़ी से हाथ ही काट डाला। इसके बाद शव को घर के बाहर ही एक गड्ढे में दफना दिया कटे हुए हाथ को एक केमिकल फैक्ट्री के पीछे फेंक दिया गया।

Delhi Crime : बॉयफ्रेंड ने प्रेमिका की हत्या के बाद शव के 35 टुकड़े किए, अलग अलग जगह फेंके

ये दिल दहलाने वाली घटना हुई थी 28 सितंबर 2018 को। अब 4 साल बाद पुलिस ने मामले का खुलासा किया है। एसपी क्राइम ने बताया कि गाजियाबाद के सिहानी गेट थाना क्षेत्र के सिकरोड गांव से चार साल पहले चंद्रवीर उर्फ पप्पू लापता हो गया था। तफ्तीश के बाद भी कोई सुराग न मिलने पर पुलिस ने फाइनल रिपोर्ट लगा दी थी लेकिन पिछले दिनो ऐसे मामलों की फिर विवेचना के आदेश के बाद ये केस खुल गया। इस मामले में मृतक की 1 साल की बेटी से पूछताछ हुई तो उसने अपनी मां और पड़ोसी पर शक जताया।

इसके बाद चंद्रवीर की पत्नी सविता और उसके पड़ोसी अरुण उर्फ अनिल कुमार को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई तो मामले का खुलासा हुआ। एसपी क्राइम ने बताया कि दोनों में प्रेम संबंध था और सविता के पति को इस बारे में पता चल गया था। उसने दोनों के मिलने पर पाबंदी लगा दी थी और इसी कारण उन्होने चंद्रवीर की हत्या की साजिश रची। एक रात जब वो शराब पीकर सो गया और अपनी योजना के मुताबिक पड़ोसी अरुण दीवार कूदकर उसके घर आ गया और गोली मारकर हत्या कर दी। चार साल बाद इस हत्या के खुलासे से इलाके में सनसनी है। एसपी क्राइम ने बताया कि आरोपियों की निशानदेही पर गड्ढा खोदकर कंकाल निकाल लिया गया है और अपराध में प्रयुक्त तमंचा और कुल्हाड़ी भी बरामद हो गई है।