तो क्या एक बार फिर मिलेगी देवेंद्र फडणवीस को महाराष्ट्र की कमान?

उद्धव के इस्तीफे को लोगों ने बाला साहब के विचारों की और आम जनता की जीत बताया है।

मुम्बई, डेस्क रिपोर्ट।  महाराष्ट्र में लगभग 2 हफ्ते से चले आ रहे राजनीतिक घमासान ने आखिरकार कल विराम लिया जब शिवसेना के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने फ्लोर टेस्ट से पहले ही इस्तीफा दिया। उद्धव ने कल रात फेसबुक लाइव पर आकर अपने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा और विधान परिषद से इस्तीफे की जानकारी दी। उन्होंने यह भी कहा कि मुझे मुख्यमंत्री पद छोड़ने का जरा भी अफसोस नहीं है।

उद्धव के इस्तीफे को लोगों ने बाला साहब के विचारों की और आम जनता की जीत बताया है। इस्तीफे की जानकारी मिलते ही महाराष्ट्र भारतीय जनता पार्टी में खुशी की लहर दौड़ गई और सभी ने महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को एक नई पारी के लिए बधाइयां देना शुरू कर दिया।

आपको बता दें महाराष्ट्र के इस सियासी संग्राम में आज देवेंद्र फडणवीस राज्यपाल के सामने सरकार बनाने का दावा पेश कर सकते हैं। कहा यह भी जा रहा है कि भाजपा शिवसेना के एकनाथ शिंदे और बाकी बागी विधायकों के साथ मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश करेगी। जानकारी के मुताबिक सभी बागी विधायक गोवा से महाराष्ट्र पहुंच चुके हैं।