Year Ender: साल 2022 रहा बेटियों के नाम, कई क्षेत्रों में किया नाम रोशन

Year Ender : आज के दौर में बेटियां बेटों से कम नहीं है। हर क्षेत्र में लड़कियां लड़कों को पछाड़ती जा रही हैं। चाहे पढ़ाई हो, खेलकुद हो, पहाड़ों पर चढ़ना हो, देश की सेवा करना हो, फिल्मी दुनिया हो या फिर पारिवारिक जीवन हर पड़ाव पर महिलाएं, पुरूषों के कदम- से – कदम मिलाकर चल रही हैं। इन दिनों लोग अपनी सोच को बदल रहे हैं। बेटी को पढ़ाया जाता है, उनकी मर्जी से शादी करने की इजाजत होती है लेकिन तब भी उन्हें कई प्रकार से संघर्ष करने पड़ते हैं लेकिन इसके बावजूद वो हर चीज में उपलब्धि हासिल कर देश का मान बढ़ा रही हैं। साल अंत होने को आया है। इसी कड़ी में आज हम आपको पूरे साल भर में महिलाओं की उपलब्धियों के बारे में बताते हैं, जिन्होंने विदेश में पूरे देश का नाम ऊंचा किया है।

सरगम कौशल

सरगम कौशल इस साल चर्चा का विषय बनी रही। जैसा कि हम सभी जानते हैं उन्होंने मिसेज वर्ल्ड का खिताब अपने नाम कर भारत का मान बढ़ाया। बता दें कि भारत में 21 साल के लंबे इंतजार के बाद इन्होंने अपने टेलैंट के दम पर सरताज अपने नाम किया। भारत का प्रतिनिधित्व करने वाली जम्मू निवासी महिला सरगम कौशल को अमेरिका के लास वेगास में मिस वर्ल्ड का ताज पहनाया गया। इस दौरान 63 देशों के प्रतियोगियों को पीछाड़ते हुए खिताब वापस भारत लाया। भारत ने अब तक केवल एक बार साल 2001 में यह खिताब हासिल किया था जो कि डॉ. अदिति गोवित्रीकर ने थी।

Year Ender: साल 2022 रहा बेटियों के नाम, कई क्षेत्रों में किया नाम रोशन

गीतांजलि त्रिपाठी

खिलाड़ी गीतांजलि त्रिपाठी को ने जार्जिया में आयोजित वूशू स्पर्धा में गोल्ड मेडल जीतकर देश का नाम रोशन किया था। बता दें गीतांजलि मध्यप्रदेश के सतना जिले की होनहार लड़की है। अंतर्राष्ट्रीय वुशु गेम्स में तिरंगे के साथ एक युवा खिलाड़ी जब विक्ट्री स्टैंड पर खड़ी हुई तो पूरा देश भावुक हो उठा। यह हमारे लिए सबसे अधिक गौरव का पल था जिसे कभी भी भुलाया नहीं जा सकता।

Year Ender: साल 2022 रहा बेटियों के नाम, कई क्षेत्रों में किया नाम रोशन

मीरा बाई चानू

मीराबाई चानू के नाम को हर छोटे से बड़े वर्ग का बच्चा भी जानता है। बता दें मीरा बाई चानू ने कॉमनवेल्थ गेम्स में 49 किलोग्राम भार वर्ग में वजन उठाकर गोल्ड मेडल अपने नाम किया और एक बार फिर इतिहास रच दिया। भारत की हर बेटी को इन पर गर्व है। इससे पहले मीरा ने 2017 में वर्ल्ड वेटलिफ़्टिंग चैंपियनशिप में गोल्ड जीता था।

Year Ender: साल 2022 रहा बेटियों के नाम, कई क्षेत्रों में किया नाम रोशन

अभिलाषा बराक

भारतीय सेना के इतिहास में पहली बार अभिलाषा बराक को आर्मी एविएश कॉर्प्स की अधिकारी बनाया गया जो कि सेना के इतिहास में पहली बार हुआ है। 26 साल कि कैप्टन अभिलाषा ने इतिहास रचते हुए पूरे देश का नाम रोशन किया है। इस उपलब्धि के लिए पूरे देशवासियों को उनपर गर्व है।

Year Ender: साल 2022 रहा बेटियों के नाम, कई क्षेत्रों में किया नाम रोशन

नमिता थापर

नमिता थापर को 20 एशियाई महिला उद्यमियों की सूची में शामिल किया गया है। बता दें कि नमिता फार्मा कंपनी एमक्योर की सीईओ हैं जो कि आईसीएआई से चार्टर्ड अकाउंट की डिग्री लेने के बाद अमेरिका चली गई। जहां से वापस लौटने के बाद उन्होंने खुद का बिजनेस सेटअप किया। आज उनकी कुल नेटवर्थ 600 करोड़ रुपये है। वो शार्क टैंक इंडिया सीजन 1′ में भी जज की भूमिका निभा चुकी हैं।

Year Ender: साल 2022 रहा बेटियों के नाम, कई क्षेत्रों में किया नाम रोशन

दीपिका पादुकोण

बॉलीवुड एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण इस नाम से तो हर कोई परिचित है, जिन्होंने भारत को गर्व कराते हुए कतर के लुसैल स्टेडियम में फीफा वर्ल्ड कप 2022 की ट्रॉफी लॉन्च की। इसी के साथ वे ऐसा करने वाली पहली भारतीय बन गई। दुनिया की टॉप 10 सबसे खूबसूरत महिलाओं की लिस्ट में एकमात्र भारतीय होने के साथ- साथ दीपिका पॉप कल्चर ब्रांड्स के लिए ग्लोबल चेहरे के रूप में चुनी जाने वाली अकेली इंडियन भी है। दो बार टाइम मैगज़ीन अवॉर्ज विनर कोअक्सर वर्ल्ड के विभिन्न क्षेत्रों के लीडर्स के साथ मान्यता दी गई है।

Year Ender: साल 2022 रहा बेटियों के नाम, कई क्षेत्रों में किया नाम रोशन