सूर्य, बुध और शुक्र की युति से चमकेगा इन 3 राशियों का भाग्य, धन-धान्य में होगी वृद्धि, बनेंगे बिगड़े काम, होगा लाभ ही लाभ

जून में मिथुन राशि में बुध, शुक्र और सूर्य देव की युति बनेगी। जिसका प्रभाव सभी राशियों पर पड़ेगा। आइए जानें किन-किन राशियों को लाभ होगा?

grah gochar 2024

Grah Gochar 2024: समय-समय पर सभी ग्रह अपनी चाल बदलते हैं। एक राशि से दूसरी राशि में प्रवेश करते हैं।  इस दौरान ग्रहों की युति बनती है। 15 जून को मिथुन राशि में 3 बड़े ग्रहों का मिलन होने जा रहा है। बुध, शुक्र और सूर्य देव की युति बनेगी। जिसका प्रभाव सभी राशियों पर पड़ेगा। किसी को लाभ तो किसी को नुकसान होगा। वैदिक ज्योतिष शास्त्र में सूर्य को आत्मा, आत्मविश्वास, मान-सम्मान, उच्च पद, नेतृत्व क्षमता, यश, सरकारी सेवा इत्यादि का कारक माना जाता है। दैत्यों के गुरु शुक्र सौंदर्य, प्रेम, वैवाहिक जीवन, भोग विलास और भौतिक सुख सुविधाओं के कारक हैं। युवराज बुध को वाणी, करियर, कारोबार, बुद्धि, त्वचा आदि का कारक माना जाता है। तीन राशियाँ  ऐसी हैं, जिन्हें ग्रहों के इस संयोग से लाभ होगा-

कन्या राशि

कन्या राशि के जातकों के लिए तीनों ग्रहों की युति बेहद ही शुभ साबित होगी। जातकों को करियर और कारोबार में लाभ होगा। व्यापार में मुनाफा होगा। बिजनेस का विस्तार भी होगा। नौकरी के नए अवसर मिलेंगे। छात्रों के लिए यह समय शुभ रहेगा। कार्यक्षेत्र में पदोन्नति के योग बन रहे हैं।

मिथुन राशि

मिथुन राशि के जातकों को भी इस दौरान लाभ होने वाला। लंबे समय से अटके हुए कार्य पूरे होंगे। भौतिक सुख-सुविधाओं में वृद्धि होगी। कारोबारियों  के लिए यह समय अनुकूल रहेगा। करिए को लेकर अच्छी खबर मिल सकती है। विवाह के योग बनेंगे। दांपत्य जीवन सुखमय रहेगा।

तुला राशि

तुला राशि के जातकों के लिए भी ग्रहों का यह संयोग लाभकारी सिद्ध होगा। जातकों को भाग्य का पूरा साथ मिलेगा। धन-धान्य में वृद्धि के योग बनेंगे। पैसों की बचत होगी। करियर और कारोबार में फायदा होगा। यात्रा के योग बन रहे हैं। छात्रों को प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता मिल सकती है। पद-प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। घर-परिवार में सुख-शांति का माहौल रहेगा।

(Disclaimer: इस आलेख का उद्देश्य केवल सामान्य जानकारी साझा करना है, जो पंचांग, ग्रंथों, मान्यताओं और विभिन्न माध्यमों पर आधारित है। MP Breaking News इन बातों के सत्यता और सटीकता की पुष्टि नहीं करता।)


About Author
Manisha Kumari Pandey

Manisha Kumari Pandey

पत्रकारिता जनकल्याण का माध्यम है। एक पत्रकार का काम नई जानकारी को उजागर करना और उस जानकारी को एक संदर्भ में रखना है। ताकि उस जानकारी का इस्तेमाल मानव की स्थिति को सुधारने में हो सकें। देश और दुनिया धीरे–धीरे बदल रही है। आधुनिक जनसंपर्क का विस्तार भी हो रहा है। लेकिन एक पत्रकार का किरदार वैसा ही जैसे आजादी के पहले था। समाज के मुद्दों को समाज तक पहुंचाना। स्वयं के लाभ को न देख सेवा को प्राथमिकता देना यही पत्रकारिता है।अच्छी पत्रकारिता बेहतर दुनिया बनाने की क्षमता रखती है। इसलिए भारतीय संविधान में पत्रकारिता को चौथा स्तंभ बताया गया है। हेनरी ल्यूस ने कहा है, " प्रकाशन एक व्यवसाय है, लेकिन पत्रकारिता कभी व्यवसाय नहीं थी और आज भी नहीं है और न ही यह कोई पेशा है।" पत्रकारिता समाजसेवा है और मुझे गर्व है कि "मैं एक पत्रकार हूं।"

Other Latest News