Devshayani Ekadashi: साल 2024 में कब है देवशयनी एकादशी? जानें इसका महत्व और पूजा विधि

Devshayani Ekadashi: देवशयनी एकादशी हिंदू धर्म का एक महत्वपूर्ण त्योहार है। इस दिन व्रत रखकर भगवान विष्णु की पूजा करने से पापों का नाश होता है और सुख-समृद्धि प्राप्त होती है। आइए, इस वर्ष देवशयनी एकादशी का व्रत रखकर भगवान विष्णु की कृपा प्राप्त करें।

devshayani ekadshi

Devshayani Ekadashi: देवशयनी एकादशी, जिसे शयन एकादशी या पद्मनाभ एकादशी के नाम से भी जाना जाता है, हिंदू धर्म में एक महत्वपूर्ण त्योहार है। यह अषाढ़ मास के कृष्ण पक्ष की एकादशी को मनाया जाता है। देवशयनी एकादशी तिथि की शुरुआत 16 जुलाई को शाम 8:33 से शुरू होगी और 17 जुलाई को शाम 9:02 पर समाप्त होगी। हिंदू धर्म में हर त्यौहार उदया तिथि के अनुसार मनाए जाते हैं, ठीक इसी प्रकार देवशयनी एकादशी का त्यौहार भी उदया तिथि के अनुसार 17 जुलाई को मनाया जाएगा। साधक इस दिन भगवान विष्णु की विधि विधान से पूजा अर्चना कर सकते हैं साथ ही साथ व्रत रख सकते हैं।

देवशयनी एकादशी का महत्व

भगवान विष्णु इस दिन क्षीर सागर में शेषनाग की शय्या पर शयन करते हैं। यह चार महीने तक निद्रा में रहते हैं। देवशयनी एकादशी के दिन व्रत रखने से भगवान विष्णु की कृपा प्राप्त होती है और पापों का नाश होता है। इस दिन दान-पुण्य करने से पुण्य की प्राप्ति होती है।

Continue Reading

About Author
भावना चौबे

भावना चौबे

इस रंगीन दुनिया में खबरों का अपना अलग रंग होता है, यह इतना चमकदार रंग होता है कि सभी की आंखें खोल देता है। यह कहना बिल्कुल गलत नहीं होगा की कलम में बहुत ताकत होती है, इस कलम की ताकत को बरकरार रखने के लिए हर रोज पत्रकारिता के नए-नए पहलुओं को समझती और सीखती हूं। मैंने श्री वैष्णव इंस्टिट्यूट ऑफ़ जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन से बीए स्नातक किया। मैं अब आगे इसी विषय में DAVV यूनिवर्सिटी से स्नाकोत्तर कर रही हूं। मेरा पत्रकारिता का यह सफर अभी शुरू ही हुआ है। मुझे कंटेंट राइटिंग, कॉपी राइटिंग, वॉइस ओवर का अच्छा ज्ञान है। मुझे मनोरंजन, जीवनशैली, धर्म इन विषयों पर लिखना अच्छा लगता है।