Thomas Cup final 2022 में भारत ने रचा इतिहास, इंडोनेशिया को 3-0 से हराया

थॉमस कप फाइनल में पहली बार फाइनल में पहुंची भारत की टीम ने 14 बार के चैंपियन इंडोनेशिया को हराकर इतिहास रच दिया है। आज थॉमस कप फाइनल मुकाबले में भारत ने जीत का परचम लहराया और इंडोनेशिया को 3-0 से हरा दिया।

स्पोर्ट्स, डेस्क रिपोर्ट। थॉमस कप फाइनल में पहली बार फाइनल में पहुंची भारत की टीम ने 14 बार के चैंपियन इंडोनेशिया को हराकर इतिहास रच दिया है। आज थॉमस कप फाइनल मुकाबले में भारत ने जीत का परचम लहराया और इंडोनेशिया को 3-0 से हरा दिया। बैडमिंटन के सिंगल्स में जहां फाइनल मैच में लक्ष्य सेन और किदाम्बी श्रीकांत ने क्रमशः एंथनी गिन्टिंग और जोनाटन क्रिस्टी को हराया। वहीँ ने सात्विकसाइराज और चिराग शेट्टी की जोड़ी पुरुष युगल का खिताब जीता और भारत को थॉमस कप का विजेता बनाया।

यह भी पढ़ें – Hero Xtreme 160R 100 Million Edition मात्र 14000. में ले आए अपने घर, जाने पूरी डिटेल

इस टूर्नामेंट की शुरुआत साल 1949 से हुई थी। थॉमस कप के 73 साल के इतिहास में भारतीय टीम पहली बार चैंपियन बनी है। भारतीय टीम ने मलेशिया और डेनमार्क जैसी मजबूत टीमों को हराकर पहली बार फाइनल में जगह बनाई और 14 सालों से चैंपियन रही इंडोनेशिया को हराकर जीत अपने नाम दर्ज की।

यह भी पढ़ें – डीजल-पेट्रोल के बाद अब सीएनजी के दामों में बढ़ोतरी, कीमत की सूची जारी

पहला मैच लक्ष्य सेन ने जीता, जिसके बाद आज मेंस डबल्स मुकाबले के फाइनल्स में भारत के सात्विकसाइराज और चिराग शेट्टी की जोड़ी का मुकाबला इंडोनेशिया के मोहम्मद अहसन और केविन संजया सुकामुलिजो से था। जहाँ सात्विक-चिराग की जोड़ी ने अपने करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए इण्डोनेशियाई जोड़ी को हराकर जीत हासिल की। इसके बाद किदांबी श्रीकांत ने तीसरा मैच जोनाटन क्रिस्टी के खिलाफ जीतकर, भारतीय टीम को पहली बार थॉमस कप का चैंपियन बनाया।

यह भी पढ़ें – IPL के इतिहास में सबसे तेज गेंदों पर 2000 रन बनाने का खिताब इस बल्लेबाज के नाम रहा

लक्ष्य सेन ने पहले मैच में डिफेंडिंग चैंपियन इंडोनेशिया के एंथनी को 8-21, 21-17, 21-16 से मात दी। दूसरे मैच में सात्विक चिराग की जोड़ी ने भी 18-21, 23-21, 21-19 से जीत हासिल की। तीसरे मैच में श्रीकांत ने क्रिस्टी को 21-15, 23-21 से हराकर इतिहास रच दिया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी टीम इंडिया को जीत की बधाई दी है।