IPL के वो प्लेयर्स जिन्होंने बीच में ही छोड़ी टीम की कमान, आइए देखें

जडेजा से पहले डेविड मिलर, ऑइन मॉर्गन, डेविड वॉर्नर, गौतम गंभीर और अजिंक्य रहाणे ने बीच सीजन में ही अपनी टीम के कप्तानी छोड़ दी थी।

खेल, डेस्क रिपोर्ट। आईपीएल (IPL) क्रिकेट इतिहास की सर्वश्रेष्ठ लीग है। क्रिकेट के सभी फॉर्मेट की जब बात करते हैं तो कप्तान की भूमिका पर सबसे अहम होती है। कप्तान को तुरंत निर्णय लेने वाला होना चाहिए। खासतौर से टी20 फॉर्मेट क्रिकेट में यदि कप्तान के पास सोचने के लिए पर्याप्त समय नहीं है तो वह असफल हो सकता है। ऐसा ही आईपीएल 2022 में देखा गया है पहली बार चेन्नई की कमान संभालने वाले रवींद्र जडेजा ने बीच सीजन में ही टीम की कप्तानी छोड़ दी है। जडेजा ने अपने खेल पर ध्यान देने के लिए टीम की कप्तानी छोड़ने का फैसला किया है। जडेजा ने फिर से धोनी को टीम की कमान संभालने को कहा है और धोनी फिर से चेन्नई के कप्तान होंगे। हालांकि, जडेजा पहले खिलाड़ी नहीं हैं, जिन्हें किसी सीजन के बीच में अपनी टीम की कप्तानी छोड़नी पड़ी है। उनसे पहले पांच और खिलाड़ी खराब प्रदर्शन के बाद बीच सीजन में ही टीम की कप्तानी छोड़ चुके हैं।

यह भी पढ़े…Char Dham Yatra पर सरकार का बड़ा कदम, भीड़ नियंत्रण के लिए महत्वपूर्ण निर्णय

आपको बता दें कि डेविड मिलर को साल 2016 में पंजाब की टीम का कप्तान बनाया गया था। जब पंजाब का नाम किंग्स इलेवन पंजाब हुआ करता था। हालांकि, बल्ले से कमाल करने वाले मिलर कप्तानी में कोई जलवा नहीं दिखा पाए। उनके नेतृत्व में टीम लगातार हारी और उनकी जगह मुरली विजय को टीम का कप्तान बनाया गया। हालांकि, विजय भी पंजाब की किस्मत नहीं बदल पाए थे।

यह भी पढ़े…राज्य के लाखों कर्मचारियों के लिए गुड न्यूज, फिर बढ़ेगा 3% DA! जानें कितनी बढ़कर मिलेगी सैलरी

गौतम गंभीर को साल 2018 के लिए अपना कप्तान बनाया था। उन्होंने केकेआर के लिए अच्छा प्रदर्शन किया था और दिल्ली उनका घरेलू मैदान भी था इसलिए वह दिल्ली की ओर से खेलते हुए आईपीएल करियर की समाप्ति चाह रहे थे। लेकिन, बतौर कप्तान वह दिल्ली के सफल नहीं हो सके और उन्होंने कप्तानी छोड़ते हुए श्रेयस अय्यर को कप्तान नियुक्त कर दिया था।

यह भी पढ़े…भारतीय अर्थव्यवस्था में आई बहार, अप्रैल में GST कलेक्शन ने तोड़े सारे रिकार्ड 

अजिंक्य रहाणे को साल 2019 में राजस्थान की टीम की कमान सौंपी थी, लेकिन रहाणे की अगुआई में राजस्थान रॉयल्स की टीम कुछ खास नहीं कर पाई। सीजन के बीच में ही उनसे कप्तानी छीन ली गई और ऑस्ट्रेलिया के स्टीव स्मिथ को राजस्थान का नया कप्तान बनाया गया। हालांकि, स्मिथ भी इस टीम को खिताब नहीं दिला पाए थे।

यह भी पढ़े…JPSC Main Result 2022 : JPSC ने जारी किया मुख्य परीक्षा का रिजल्ट, साक्षात्कार की देखें तिथियां

गौतम गंभीर के जाने के बाद दिनेश कार्तिक को कोलकाता का कप्तान बनाया गया था। उनके नेतृत्व में टीम अच्छा प्रदर्शन कर रही थी, लेकिन कोई खिताब नहीं जीत पाई थी। हालांकि, 2020 का साल कोलकाता और कार्तिक के लिए बेहद खराब रहा। इसके बाद उनकी जगह ऑइन मॉर्गन को केकेआर का कप्तान बना दिया गया था। 2021 में मॉर्गन की कप्तानी में कोलकाता फाइनल तक पहुंची थी।

यह भी पढ़े…लाखों कर्मचारियों को बड़ा तोहफा, फिर DA में 3% की वृद्धि, 10 महीने के एरियर का भी होगा भुगतान

सनराइजर्स हैदराबाद को आईपीएल खिताब दिलाने वाले कप्तान डेविड वार्नर को कप्तानी से हटाना सनराइजर्स हैदराबाद के लिए विवादों से भरा हुआ था। चूंकि, सनराइजर्स हैदराबाद आईपीएल 2021 में संघर्ष कर रही थी और छह में से पांच मैंचों में हार का सामना कर चुकी थी, इसलिए फ्रेंचाइजी ने डेविड वार्नर को कप्तानी से हटाते हुए केन विलियमसन को कप्तानी सौंप दी थी। इस सीजन को यह टीम कोई कमाल नहीं कर पाई, लेकिन 2022 में अब तक हैदराबाद ने अच्छा खेल दिखाया है और प्लेऑफ में पहुंचने की प्रबल दावेदार है।