400 से अधिक Apps में मिला ये खतरनाक Malware, खाली हो सकता है आपका बैंक अकाउंट, ऐसे करें बचाव

Manisha Kumari Pandey
Published on -

Android Apps Alert: जितनी तेजी दुनिया डिजिटलाइजेशन अपना रही है, उतनी ही तेजी से साइबर क्राइम के मामले बढ़ रहे हैं। थोड़ी-सी लापरवाही आपको कंगाल बना सकती है। फ्रॉड के लिए नए-नए तरीके और मेलवेयर भी स्कैमर्स द्वारा विकसित किये जा रहे हैं। अब एक रूसी रिसर्च लैब से नए ट्रोजन मेलवेयर “Nexus” का पता लगाया है। रिपोर्ट की माने तो इस मेलवेयर ने अब तक करीब 450 ऐप्स को अपना निशाना बनाया है। जिसमें कई बैंकिंग और फाइनेंशियल ऐप्स भी शामिल है। जो यूजर्स के लिए बहुत खतरनाक साबित हो सकते हैं।

ऐसे करें Maleware की पहचान

रिपोर्ट के मुताबिक यह मेलवेयर लेटेस्ट एंड्रॉयड 13 पर भी काम कर करने में सक्षम है। दुनिया भर में चलाए गए कैंपेन में यह खुलासा हुआ कि इस खतरनाक मेलवेयर का इस्तेमाल फ्रॉड के लिए किया जा रहा है। जनवरी में भी ट्रोजन का एक वायरस पाया गया था। जिसका नाम भी “नेक्सस” है। रिसर्च लैब ने मेलवेयर वाले ऐप्स को पहचानने का तरीका भी बताया है। अपने मोबाइल में इंस्टॉल कीये गए ऐप्स के डेटा यूसेज को नियमित तौर पर चेक करते रहें। साथ ही एंटी-वायरस और एंड्रॉइड ओएस के अलर्ट नोटिफिकेशन पर भी ध्यान देते रहें।

Continue Reading

About Author
Manisha Kumari Pandey

Manisha Kumari Pandey

पत्रकारिता जनकल्याण का माध्यम है। एक पत्रकार का काम नई जानकारी को उजागर करना और उस जानकारी को एक संदर्भ में रखना है। ताकि उस जानकारी का इस्तेमाल मानव की स्थिति को सुधारने में हो सकें। देश और दुनिया धीरे–धीरे बदल रही है। आधुनिक जनसंपर्क का विस्तार भी हो रहा है। लेकिन एक पत्रकार का किरदार वैसा ही जैसे आजादी के पहले था। समाज के मुद्दों को समाज तक पहुंचाना। स्वयं के लाभ को न देख सेवा को प्राथमिकता देना यही पत्रकारिता है। अच्छी पत्रकारिता बेहतर दुनिया बनाने की क्षमता रखती है। इसलिए भारतीय संविधान में पत्रकारिता को चौथा स्तंभ बताया गया है। हेनरी ल्यूस ने कहा है, " प्रकाशन एक व्यवसाय है, लेकिन पत्रकारिता कभी व्यवसाय नहीं थी और आज भी नहीं है और न ही यह कोई पेशा है।" पत्रकारिता समाजसेवा है और मुझे गर्व है कि "मैं एक पत्रकार हूं।"