Breaking News
विधानसभा का आखिरी सत्र कल से, 5 दिवसीय सत्र में पूछे जाएंगे 1376 सवाल | मानसून सत्र: सरकार को घेरने विपक्ष की रणनीति तैयार, PCC चीफ बोले- 5 साल का हिसाब मांगेंगे | ग्रामीण से रिश्वत लेते रोजगार सहायक कैमरे में कैद, वीडियो हुआ वायरल | जब आदिवासियों संग मांदल की थाप पर थिरके शिवराज, देखें वीडियो | MP : कांग्रेस में 3 नई समितियों का गठन, चुनाव घोषणा पत्र में कर्मचारी नेता को मिली जगह | BIG SCAM : PNB के बाद एक और बैंक में घोटाला, तीन अधिकारी सस्पेंड | IPS ने बताया डंडे के फंडे से कैसे होगा पुलिसवालों का TENSION दूर! | कपड़े दिलाने के बहाने किया मासूम को अगवा, बेचने से पहले पुलिस ने रंगेहाथों पकड़ा | इग्लैंड में अपना जलवा दिखाने पहुंचे 4 भारतीय दिव्यांग तैराक, इंग्लिश चैनल को करेंगें पार | VIDEO : केरवा कोठी पर भाजपा महिला मोर्चा का प्रदर्शन |

फसल खराब होने से परेशान किसान ने खाया जहर, अस्पताल में मौत

 बालाघाट। मौसम की मार और फसल का नुकसान किसानों के लिए हर साल दर्द बनकर आता है| कभी कम बारिश से खेती सूखी रह जाती है तो कभी ओले किसान की खड़ी फसलें चौपट कर देती है| ऐसा ही बालाघाट जिले के एक किसान के साथ, जिसका सदमा वो सहन नहीं कर सका और जहर खाकर जान दे दी| 

प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले लालबर्रा थाना क्षेत्र के बांदरी गांव में 70 वर्षीय किसान बलीराम गौतम ने बीमारी व फसल खराब होने से परेशान होकर जहर खाकर जान दे दी| खेत से शाम को घर लौटने के बाद उसकी तबियत ख़राब हुई तो एम्बुलेंस से परिजन किसान को लालबर्रा अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टर ने उसकी गंभीर स्थिति को देखते हुए जिला अस्पताल रेफर कर दिया|  बलीराम की तबियत ज्यादा ख़राब हो गई और जिला अस्पताल में इलाज के कुछ देर बाद डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया| इस दौरान उसे उल्टी भी हुई, तब डॉक्टरों ने बताया कि मृतक ने कीटनाशक दवा का सेवन किया है, इसी से उसकी मौत हुई है। अस्पताल चौकी पुलिस ने शव को बरामद कर पंचनामा तैयार कर पोस्टमार्टम कराकर शव को परिजनों को सौंप दिया है। 

 परिजनों के अनुसार किसान बलीराम गौतम बीमारी और फसल के नुकसान से परेशान चल रहा था| उसकी दो एकड़ में लगी खरीफ की फसल करपा से खराब हो गई थी, वहीं रबी की फसल की भी स्थिति ठीक न होने के कारण पिताजी परेशान थे। वहीं बीमारी से पीड़ित होेने से उनका एक पैर भी खराब हो गया था जिससे वो परेशान रहते थे। इसी कारण जहर खाने की आशंका जताई गई है|  वहीं किसान के ऊपर किसी प्रकार का कर्ज नहीं होने की बात भी सामने आयी है| 

  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...