Breaking News
प्रशासन बता रहा 'डेंगू' छुआछूत की बीमारी | किसकी होगी पूरी मुराद, आज महाकाल के दर पर सिंधिया-शिवराज | सड़क पर सियासत : कमलनाथ बोले- बुधनी से अच्छी छिंदवाड़ा की सड़कें, शिवराज जी एक बार जरुर आए | सुल्तानगढ़ वॉटरफॉल हादसा : मौत से संघर्ष के बाद भी कैसे हार गई 9 जिंदगियां, देखें वीडियो | शर्मसार : सागर में नाबालिग से गैंगरेप, बीते दिनों ही मिला था सबसे सुरक्षित शहर का तमगा | कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने लिया विस चुनाव में भाजपा को उखाड़ फेंकने का संकल्प | केंद्रीय मंत्री की बहन को एसिड अटैक और मारने की धमकी | खाना खाने के बाद बिगड़ी तबियत, दो सगी बहनों की मौत, मां की हालत गंभीर | पूर्व राष्ट्रपति शंकर दयाल शर्मा की जन्मशताब्दी मनाएगी सरकार : शिवराज | अस्पताल के बच्चा वार्ड में लगी आग, मची अफरा-तफरी, 35 बच्चे थे भर्ती |

MP : नई दुल्हन ने ससुराल वालों के सामने रखी ये मांग, फिर किया गृहप्रवेश

बैतूल

फिल्म 'टॉयलेट एक प्रेम कथा' के बाद से लोग शौचालय बनाने के प्रति जागरुक हो रहे है।वही पीएम मोदी के स्वच्छ भारत अभियान को लेकर अब मध्यप्रदेश के ग्रामीण भी बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं। लड़कियां भी अब वहां शादी करने से मना करने लगी है जहां शौचालय नही है। ताजा मामला बैतूल से सामने आया है। जहां एक दुल्हन ने शादी के बाद गृह प्रवेश करने से शौचालय देखने की मांग रख दी। दुल्हन ने कहा कि वो पहले शौचालय देखेगी और फिर घर में प्रवेश करेगी ।  

जानकारी के अनुसार, जिले के चिचौली ब्लॉक के आलमपुर गांव में रहने वाले बाली विश्वकर्मा की शादी बुधवार अक्षय तृतीया के दिन चिखली गांव की बबली से हुई थी। गुरुवार सुबह बबली की विदाई हुई और वह अपने ससुराल पहुंची। लेकिन यहां पहुंचते ही उसने गृहप्रवेश करने से पहले एक ससुराल वालों के सामने एक शर्त रख दी।बबली ने ससुराल वालों से कहा कि वह गृहप्रवेश के पहले ये देखना चाहती है कि घर में शौचालय है कि नही। घर के जब बड़े-बुर्जुगों ने बबली को बताया कि घर में शौचालय है, तब बबली बहुत खुश हुई और गृहप्रवेश किया। 

वही ससुराल और गांव के बड़े -बुजुर्गों ने बहू की  इस सोच के लिए उसकी खूब तारीफ की और आर्शीवाद दिया।वही ग्रामीणों ने इसे स्वच्छता को अपनाने के लिए प्रेरणा देने वाला कार्य बताया। इसके बाद गृहप्रवेश की रस्में पूरी की गई।इस वाक्ये के बाद से ही गांवभर में नई नवेली दुल्हन की खूब चर्चा हो रही है। गांव की बाकी महिलाएं भी शौचालय के प्रति जागरुक दिखाई देने लगी है और अपने घरवालों से शौचालय बनाने की मांग कर रही है। वाकई बबली सारे गांव वालों के लिए एक प्रेरणा बनी हुई है।



  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...