Breaking News
अधिकारी की कलेक्टर को नसीहत, 'आपकी कार्यशैली पर लज्जा आती है, तबादला करा लें' | दागियों का कटेगा टिकट, साफ-सुथरी छवि के नेताओं को चुनाव में उतारेगी भाजपा | फ्लॉप रहा कांग्रेस का 'घर वापसी' अभियान, सिर्फ कार्यकर्ता लौटे, नेताओं ने बनाई दूरी | शिवराज कैबिनेट की बैठक ख़त्म, इन प्रस्तावों पर लगी मुहर | सीएम चेहरे को लेकर सोशल मीडिया पर जंग, दिग्विजय भड़के | मुख्यमंत्री के काफिले पर पथराव, महिदपुर- नागदा के बीच की घटना, पुलिस वाहन के कांच फूटे | अब भोपाल में राहुल ने फिर मारी आंख, वीडियो वायरल | एमपी की 148 सीटों पर खतरा, बिगड़ सकता है बीजेपी का चुनावी गणित | LIVE: ऊपर से टपकने वाले को नहीं मिलेगा टिकट : राहुल गांधी | राहुल की सभा में उठी सिंधिया को सीएम कैंडिडेट घोषित करने की मांग |

मीडिया के लिये सरकार के मंत्री की बदजुबानी, देखें वीडियो

खरगोन।

हमेशा अपने बयानों से विवादों में रहने वाले भाजपा सरकार के मंत्री और खरगोन विधायक बालकृष्ण पाटीदार ने एक बार फिर विवादित बयान दिया है। इस बार उन्होंने मीडिया पर हमला बोला है। उन्होंने आरोप लगाया है कि मीडिया वाले झूठी खबर छपकर नेताओं को डराते धमकाते है। उनके बयान के बाद से ही हड़कंप मच गया है। मीडिया संस्थान ने उनके इस बयान की निंदा की है। वही कांग्रेस ने भी मंत्री की बदजुबानी पर हमले बोलना शुरु कर दिया है। 

दरअसल, शुक्रवार को राज्यमंत्री बालकृष्ण पाटीदार ने खरगोन विधानसभा क्षेत्र में भाजपा के प्रशिक्षण कार्यक्रम में पहुंचे थे। यहां सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने मीडिया पर जमकर निशाना साधा।उन्होंने कार्यकर्ताओं को प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया की विशेषताओं को बताते हुए कहा कि पेपरवाले पेपर बांट जाते है, फोकट के 5 रुपए खर्च होते है। उसमें दो शब्द भी सही नही लिखे होते।ऐसे पेपर को पढ़ने से क्या फायदा।ये पेपर वाले नेताओं को झूठी खबरें छापकर डराते है। इन्हें कितना भी दो लेकिन इनका पेट ही नही भरता है। लेकिन मैं वैसे नेता नही, मेरे पास खुद के पास माउथ मीडिया है, जो कहना है सीधा कहता हूं। वहां मौजूद कार्यकर्ताओं ने भी मंत्री जी की हां में हां मिलाई। वही मंत्री ने भाजपा कार्यकर्ताओं को चुनावों के दौरान मीडिया से निपटने गुर भी बताये ।

बता दे कि यह पहला मौका नही है जब मंत्री पाटीदार ने विवादित बयान दिया हो। इसके पहले भी वे किसानों और आत्महत्याओं पर विवादित बयान दे चुके है।


  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...