EOW की कार्रवाई, रिटायर्ड कार्यपालन यंत्री के लॉकर से मिला दो किलो सोना

जबलपुर| जल संसाधन विभाग मे पदस्थ रहे रिटायर कार्यपालन यंत्री के पी तिवारी के ठिकानो पर ईओडबल्यू की कार्यवाही लगातार जारी है। ईओडब्ल्यू ने एक बार फिर रिटायर कार्यपालन यंत्री के नागपुर स्थित दो बैंकों के लॉकरों को खोला जिसमे की एक-एक किलो सोना मिला है। बताया जा रहा है कि बैंकों के लॉकरों की जांच के लिए केपी तिवारी को कई बार ईओडब्लू ने नोटिस दिए थे बावजूद इसके वो जाँच में मदद नही कर रहे थे लिहाजा केपी पांडेय की अनुपस्थिति में कल नागपुर स्थित उनके दो बैंकों के लाकर खोले गए जिसमे दो किलो सोना मिला है जिसकी अनुमानित कीमत 80 लाख बताई जा रही है।

सूत्रों के मुताबिक अभी तक के ईओडब्ल्यू की जाँच में जल संसाधन के रिटायर कार्यपालन यंत्री के पास से 51 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति मिल चुकी है।माना जा रहा है कि संपत्ति का ये आंकड़ा और भी बढ़ सकता है।गौरतलब है कि अभी तक कि जांच में ईओडब्ल्यू को जबलपुर-सतना और उनके पैतृक गांव में 100 एकड़ से अधिक की कृषि भूमि , सतना मे 10 प्लाॅट , कटनी मे 4 प्लाॅट , जबलपुर समेत सतना और पैतृक गाॅव मे तीन आलीषान घर , 3 किलो सोना , ढ़ाई किला चाॅदी 22 लाख से अधिक नगद करीब 6 वाहन मिले है। जबकि अब नागपुर में भी 2 किलो सोना मिला है।

"To get the latest news update download tha app"