किसान आंदोलन का चौथे दिन दिखा असर, गाडरवारा में सड़कों पर फेंकी सब्जी

नरसिंहपुर

मध्यप्रदेश समेत देश के आठ राज्यों में किसानों ने कर्जमाफी और फसलों के उचित दाम ना मिलने के चलते दस दिन तक आंदोलन का आह्नान किया है।आज आंदोलन का चौथा दिन है। बीते तीन दिनों में प्रदेश का माहौल सामान्य रहा।हालांकि कही कही आंदोलन का आंशिक असर देखने को मिला।लेकिन आज कुछ जिलों में आंदोलन असर देखने को मिला, राजधानी भोपाल समेत कई जिलों में सब्जियों के दामों में गिरावट आई है, वही दूध की भी आपूर्ति कम हुई है। इसके साथ ही नरसिंहपुर के गाडरवारा में किसानों में आक्रोश देखने को मिला। यहां आवक ज्यादा होने के बावजूद सब्जी ना बिकने के चलते किसानों ने सड़कों पर सब्जी फेंक दी।

बता दे कि दो दिन पहले भी तेंदुखेड़ा में सब्जी और फलों के सड़को पर फेंकने की घटना सामने आई थी।

दरअसल, आज सुबह नरसिंहपुर जिले के गाडरवारा में राष्ट्रीय किसान मजदूर संघ के किसानों शांति दूध चौराहे पर एकत्रित हुए और सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए होकर सड़कों पर सब्जी फेंक दी। वही कही कही जिले मे फलों को भी सड़कों पर फेंका गया है। किसानों का कहना है कि दिन -रात एक करके उपज  पैदा करने के बावजूद फसलों का सही दाम नहीं मिल पा रहा है। ये सब शिवराज सरकार के कारण हो रहा है। सरकारों की अनदेखी का खामियाजा किसानों को  भुगतना पड़ रहा है। किसानों ने मांगे नहीं मानने पर आंदोलन उग्र करने की चेतावनी दी है।वही प्रशासन भी पूरी तरह से इस आंदोलन पर नजर बनाए हुए है । किसान नेता जबरदस्ती किसानों को बाजार आने से रोक तो नही रहे है ।  अन्य जिलों की बात करे तो स्थिति सामान्य है। बीते तीन दिनों में कोई ऐसी घटना देखने को नही मिली है।


"To get the latest news update download tha app"