Breaking News
अधिकारी की कलेक्टर को नसीहत, 'आपकी कार्यशैली पर लज्जा आती है, तबादला करा लें' | दागियों का कटेगा टिकट, साफ-सुथरी छवि के नेताओं को चुनाव में उतारेगी भाजपा | फ्लॉप रहा कांग्रेस का 'घर वापसी' अभियान, सिर्फ कार्यकर्ता लौटे, नेताओं ने बनाई दूरी | शिवराज कैबिनेट की बैठक ख़त्म, इन प्रस्तावों पर लगी मुहर | सीएम चेहरे को लेकर सोशल मीडिया पर जंग, दिग्विजय भड़के | मुख्यमंत्री के काफिले पर पथराव, महिदपुर- नागदा के बीच की घटना, पुलिस वाहन के कांच फूटे | अब भोपाल में राहुल ने फिर मारी आंख, वीडियो वायरल | एमपी की 148 सीटों पर खतरा, बिगड़ सकता है बीजेपी का चुनावी गणित | LIVE: ऊपर से टपकने वाले को नहीं मिलेगा टिकट : राहुल गांधी | राहुल की सभा में उठी सिंधिया को सीएम कैंडिडेट घोषित करने की मांग |

किसान आंदोलन का चौथे दिन दिखा असर, गाडरवारा में सड़कों पर फेंकी सब्जी

नरसिंहपुर

मध्यप्रदेश समेत देश के आठ राज्यों में किसानों ने कर्जमाफी और फसलों के उचित दाम ना मिलने के चलते दस दिन तक आंदोलन का आह्नान किया है।आज आंदोलन का चौथा दिन है। बीते तीन दिनों में प्रदेश का माहौल सामान्य रहा।हालांकि कही कही आंदोलन का आंशिक असर देखने को मिला।लेकिन आज कुछ जिलों में आंदोलन असर देखने को मिला, राजधानी भोपाल समेत कई जिलों में सब्जियों के दामों में गिरावट आई है, वही दूध की भी आपूर्ति कम हुई है। इसके साथ ही नरसिंहपुर के गाडरवारा में किसानों में आक्रोश देखने को मिला। यहां आवक ज्यादा होने के बावजूद सब्जी ना बिकने के चलते किसानों ने सड़कों पर सब्जी फेंक दी।

बता दे कि दो दिन पहले भी तेंदुखेड़ा में सब्जी और फलों के सड़को पर फेंकने की घटना सामने आई थी।

दरअसल, आज सुबह नरसिंहपुर जिले के गाडरवारा में राष्ट्रीय किसान मजदूर संघ के किसानों शांति दूध चौराहे पर एकत्रित हुए और सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए होकर सड़कों पर सब्जी फेंक दी। वही कही कही जिले मे फलों को भी सड़कों पर फेंका गया है। किसानों का कहना है कि दिन -रात एक करके उपज  पैदा करने के बावजूद फसलों का सही दाम नहीं मिल पा रहा है। ये सब शिवराज सरकार के कारण हो रहा है। सरकारों की अनदेखी का खामियाजा किसानों को  भुगतना पड़ रहा है। किसानों ने मांगे नहीं मानने पर आंदोलन उग्र करने की चेतावनी दी है।वही प्रशासन भी पूरी तरह से इस आंदोलन पर नजर बनाए हुए है । किसान नेता जबरदस्ती किसानों को बाजार आने से रोक तो नही रहे है ।  अन्य जिलों की बात करे तो स्थिति सामान्य है। बीते तीन दिनों में कोई ऐसी घटना देखने को नही मिली है।


  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...