अपनी इस बड़ी योजना को लेकर CM शिवराज ने की समीक्षा बैठक, 7 अगस्त को करेंगे शुभारंभ

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट

एक तरफ जहां कोरोना(corona) की वजह से प्रदेश की आर्थिक स्थिति चरमरा गई है। वहीं राज्य शासन द्वारा लगातार आर्थिक स्थिति को सुदृढ़ करने की तरफ कदम उठाए जा रहे हैं। इसी बीच बहुप्रतीक्षित आत्मनिर्भर भारत(Aatmnirbhar Bharat) के अंतर्गत आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश योजना(Aatmnirbhar madhyapradesh scheme) को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान(Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) ने चिरायु अस्पताल(chirayu hospital) से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग(video conferencing) के जरिए बैठक की। जहां उन्होंने आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश के लिए किए जा रहे प्रयासों पर आज समीक्षा बैठक ली। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान 7 अगस्त को वेबिनार(webinar) का शुभारंभ करेंगे। वही 15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस(independence day) के दिन वह प्रदेशवासियों के सामने आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश का रोड मैप(Road Map of Self-reliant Madhya Pradesh) पेश करेंगे। जिसको लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिए हैं।

दरअसल मुख्यमंत्री शिवराज 7 अगस्त को वेबीनार का शुभारंभ करेंगे ।इसमें देश के विभिन्न विषय विशेषज्ञ भारतीय प्रबंधन संस्थान के प्रतिनिधि, आर्थिक क्षेत्र के विद्वान,भोपाल और इंदौर स्थित राष्ट्रीय संस्थानों के प्रतिनिधि, वरिष्ठ अधिकारी, इच्छुक मंत्रीगण, केंद्र सरकार के अधिकारी, प्रदेश के कुछ मैदानी और वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहेंगे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी(Primeminister Narendra Modi) की आत्मनिर्भर भारत की अवधारणा जब आई थी तभी मेरे मन में था इस बारे में आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश का रोड मैप जल्द बनाएंगे। जिसके लिए आज सीएम शिवराज ने वेबीनार की तैयारियां जानी सीएम चौहान ने कहा कि आमजन को वो आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश रोड मैप की जानकारी देंगे। वहीँ व्यवहारिक सुझावों का पालन किया जाएगा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बताया कि नीति आयोग के निर्देशानुसार यह वेबीनार हो रहे हैं। चर्चा के बिंदु तैयार कर लिए गए हैं। लोक सेवा प्रबंधन को भी इन से अवगत करवाया जाएगा। सुशासन संस्थान द्वारा तैयार चेक लिस्ट के अनुरूप वरिष्ठ अधिकारी वेबीनार के संचालन संपादन का कार्य करें। वित्त व्यवस्था के बारे में भी विचार कर वेबीनार में चर्चा होगी। सीएम शिवराज ने उम्मीद जताया है कि यह वेबिनर मील का पत्थर साबित होंगे। ऐसा प्रयास है कि युवा वर्ग भी इससे जुड़े। चिरायु अस्पताल से वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये हुए समीक्षा बैठक में आज आत्मनिर्भर वेबीनार की तैयारियों की जानकारी दी गई इस मौके पर मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस और 4 टीम लीडर्स एसएससी मोहम्मद सुलेमान, आई सी पी केसरी, एस एन मिश्रा और राजेश राजौरा भी मौजूद रहें

बता दें कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत के मंत्र को साकार करने की कोशिश में जुट गए हैं। जिसके लिए अब सीएम शिवराज सिंह चौहान ने साफ निर्देश देते हुए कहा है कि आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश का रोड मैप जल्द से जल्द तैयार किया जाए। इसके साथ ही लोकल को वोकल(Local to Vocal) बनाने की तर्ज पर प्रत्येक जिले में उसकी विशिष्टता की पहचान की जा रही है। जिसे विकसित कर उस जिले में लघु कुटीर उद्योग की स्थापना की जा सके। वहीं आगामी 15 अगस्त को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश योजना को लेकर कुछ बड़ी घोषणा कर सकते हैं।