श्वेता तिवारी का विवादित बयान, अंडर गारमेंट से भगवान को जोड़कर बुरी फंसी अभिनेत्री

Shweta Tiwari फैशन से जुड़ी एक वेबसीरिज को लेकर प्रोडक्शन टीम के साथ भोपाल आई थी और इस दौरान डिस्कशन चल रहा था।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। जानी-मानी टीवी अदाकारा श्वेता तिवारी (Shweta Tiwari) का विवादास्पद बयान सामने आया है। उन्होंने एक इंटरव्यू (Interview) में कहा कि मेरी ब्रा (Bra) का साइज भगवान ले रहे हैं। इस बयान को लेकर श्वेता तिवारी की मुश्किलें बढ़ सकती हैं।

फैशन (Fashion) से जुड़ी एक वेबसीरिज को लेकर प्रोडक्शन टीम (Production Team) भोपाल आई थी और इस दौरान डिस्कशन चल रहा था। इस वेब सीरीज (Web Series) की शूटिंग भोपाल में ही होने वाली है। इस दौरान डिस्कशन में मजाक मजाक के दौरान श्वेता तिवारी के मुंह से निकल गया कि मेरी ब्रा का साइज़ तो भगवान ले रहे हैं।

Read More : लापरवाही पर बड़ा एक्शन, तहसीलदार-पटवारी सहित 5 BRC निलंबित, RI-बाबू पर भी कार्रवाई के निर्देश

हालांकि उस समय मंच पर मौजूद लोगों ने इसे मजाक में उड़ा दिया लेकिन अब यह बयान विवाद का विषय बन सकता है। हालांकि ऐसा पहली बार नहीं है जब बॉलीवुड या जाने-माने अभिनेता अभिनेत्री द्वारा हिंदू मान्यताओं और भगवान के ऊपर कमेंट किया गया है।

इससे पहले भी कई बार हिंदू मान्यताओं और संस्कृति का मजाक उड़ाया जा चुका है। श्वेता तिवारी के विवादित बयान के बाद एक तरफ जहां इंटरनेट पर एक बार फिर से विवाद छिड़ गया है। वही सोशल मीडिया पर लोगों के तरह तरह के रिएक्शन सामने आ रहे हैं।

इधर राजधानी में श्वेता तिवारी के खिलाफ संस्कृति बचाओ मंच ने नारेबाजी शुरू कर दी है। इसके साथ ही साथ अदाकारा श्वेता तिवारी का पुतला जलाया गया है।

कांग्रेसी नेता नरेंद्र सलूजा ने नरोत्तम मिश्रा पर जमकर निशाना साधा

नरोत्तम मिश्रा द्वारा जांच के आदेश दिए जाने के बाद अब कांग्रेसी नेता नरेंद्र सलूजा ने नरोत्तम मिश्रा पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि छोटे-छोटे मामले में सीधे f.i.r. का निर्णय लेने वाले गृहमंत्री अभिनेत्री श्वेता तिवारी के भगवान के अपमान किए जाने के मामले में भी जांच के आदेश दिए हैं।

नरेंद्र सलूजा ने कहा कि इसमें क्या जांच, किया तथ्य, क्या विषय और क्या संदर्भ…यहां तो सीधे-सीधे धार्मिक भावनाओं का अपमान है। इसके लिए तुरंत f.i.r. किया जाना चाहिए। पता नहीं गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा क्यों साहस नहीं दिखा पा रहे हैं। इसके अलावा नरेंद्र सलूजा ने कहा कि खुद को धर्म प्रेमी और धर्म का रक्षक बताने वाली कि यह वास्तविकता है?