‘दिग्विजय’ और ‘पटवारी’ पर “शिवराज” के मंत्री ने बोला हमला, कही ये बड़ी बात

भिण्ड। गणेश भारद्वाज

बेंगलुरु में जब 22 दिन तक 22 विधायक मेरे साथ रहे तो प्रदेश सरकार के तत्कालीन शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी वहां गुंडागर्दी करने पहुंचे लेकिन हमने उनको गुंडागर्दी नहीं करने दी वहां पर उनका पिछवाड़ा सुजा दिया जिसका दर्द उनको एक महीने तक हुआ होगा। इसके अलावा पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने उस समय मेरे परिवार को प्रताड़ित किया मेरे भाई को थाने में बैठाया और मुझे खरीदने की कोशिश की, लेकिन दिग्विजय सिंह की तो बात क्या उनका बाप भी मुझे नहीं खरीद सकता है मैं चंबल का बेटा हूं । यह बयान बीते रोज सहकारिता मंत्री बनने के बाद भिंड आए अटेर विधायक अरविंद भदौरिया ने भिंड नगर के निराला रंग बिहार में आयोजित एक स्वागत सभा को संबोधित करते हुए दिया। इस अवसर पर मेहगांव के पूर्व विधायक चौधरी मुकेश सिंह चतुर्वेदी भाजपा के जिलाध्यक्ष नाथू सिंह गुर्जर महिला मोर्चा की प्रदेश उपाध्यक्ष ममता सिंह भदौरिया, सीमा शर्मा, अजय सिंह भदौरिया, देवेंद्र नरवरिया सहित कई गणमान्य जन मंच पर मौजूद रहे।

सहकारिता मंत्री ने ने मंच से संबोधित करते हुए कहा कि दिग्विजय सिंह जीतू पटवारी और उनके बेटे ने काफी कोशिश की विधायकों को बरगलाने और उन्हें खरीदने की लेकिन मैं उनके सामने ढाल बना रहा और उन्हें ऐसा नहीं करने दिया श्री भदौरिया ने प्रदेश सरकार के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पर भी निशाना साधा और कहां की काले कमलनाथ की काली सरकार के ताबूत में अंतिम कील ठोकने का काम मैंने किया। उन्होंने आगे कहा कि शिवराज जी ने मंत्री बनाकर जो विश्वास मुझ में जताया है और एक बड़े विवाद कि मुझे जिम्मेदारी सौंपी है मैं आप सभी को विश्वास दिलाता हूं विभाग किसानों के हित में काम करेगा और विभाग के माध्यम से रोजगार के नए अवसर पैदा होंगे पहले जैसे घपले घोटाले विभाग में नहीं होंगे । उन्होंने स्थानीय फिर से उनके प्रतिद्वंदी रहे हेमंत कटारे का नाम लिए बगैर उनको कांग्रेस का छोटा सा चूजा बताया और कहा कि उनमें संस्कार नहीं है जो मेरे खिलाफ अनर्गल भाषा का उपयोग करते हैं आने वाले समय में कभी आमने सामने होंगे तो उन्हें में हूं उस बात का जवाब दूंगा

उन्होंने कहा कि मैंने विधायक रहते अटेर में 700 करोड़ के काम कराए थे अब आप सब की कृपा से मंत्री बना हूं तो सबसे पहले साढे आठ हजार करोड़ का चंबल एक्सप्रेस में लेकर आया हूं और आने वाले साडे 3 सालों में अटेर में कनेरा योजना की शुरुआत के साथ विकास के अभूतपूर्व नए आयाम स्थापित कराने का कार्य करूंगा। इससे पहले शनिवार की सुबह 10 बजे ग्वालियर से चले अरविंद भदौरिया रात 9 बजे निराला रंगवा विहार पहुंच सके रास्ते में जन सामान्य भाजपा कार्यकर्ता और उनके समर्थकों के द्वारा श्री भदौरिया का अभूतपूर्व स्वागत किया गया इस स्वागत में कोरोना काल का डर नहीं दिखाई दिया और लोग जमकर सोशल डिस्टेंस की धज्जियां उड़ाते हुए दिखाई दिए श्री भदौरिया के द्वारा 1 दिन पूर्व लोगों से आव्हान किया गया था कि वह सोशल डिस्टेंस का पालन करें और मास्क लगाकर ही उनसे मिलने के लिए आए लेकिन अधिकांश तह ऐसा नहीं हो सका।