खेल, डेस्क रिपोर्ट। कोरोना (corona) की दूसरी लहर का असर क्रिकेट (cricket) पर भी हुआ है। जहां आईपीएल के बाकी बचे मैचों को रद्द कर दिया गया था। हालांकि बावजूद इसके भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (Board of Control for Cricket in India) ने अपनी कोशिश जारी रखी है। बोर्ड द्वारा आईपीएल (IPL) के बाकी बचे 31 मैच कराए जाने को लेकर लगातार ईसीबी (ECB) से चर्चा की जा रही है।

दरअसल भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) द्वारा लगातार इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड (England Cricket Board) से बातचीत की जा रही है। जहां भारत और इंग्लैंड के बीच होने वाले पांच टेस्ट मैचों की सीरीज के शेड्यूल (Schedule) में बदलाव किए जा सकते हैं। माना जा रहा है कि यह बदलाव आईपीएल को देखते हुए किए जा रहे हैं। इसके बाद भारत और इंग्लैंड के बीच होने वाले पांच टेस्ट मैचों की सीरीज का टूर्नामेंट (tournament) अगस्त से सितंबर के बीच में इंग्लैंड में कराया जा सकेगा। हालांकि अभी तक इस बात पर सहमति नहीं बनी है लेकिन फिलहाल इंग्लैंड से बातचीत जारी है।

Read More: कोरोना से आसाराम की तबियत में लगातार गिरावट, दायर की जमानत याचिका, सुनवाई आज

बता दें कि कोरोना की दूसरी लहर और लगातार बढ़ते केस को देखते हुए बीसीसीआई द्वारा आईपीएल के बाकी बचे मैचों को टाल दिया गया था। इंडियन प्रीमियर लीग के 31 मैच अभी बाकी है। वहीं भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड की कोशिश है कि आईपीएल को पूरा कराया जाए। इसके लिए इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड से भी बात की जा रही है।

रिपोर्ट के मुताबिक आईपीएल के बाकी बचे 31 मैच के लिए 4 देशों के प्रपोजल सामने आए हैं। जिसमें इंग्लैंड के अलावा UAE, ऑस्ट्रेलिया और श्रीलंका शामिल है। हालांकि इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड, भारत और इंग्लैंड के बीच होने वाले टूर्नामेंट में बदलाव के लिए सिर्फ इसी सहमति पर तैयार होगा कि आईपीएल का मेजबान उसे बनाया जाए।

Read More: Suspended: लापरवाही पर गिरी गाज, 3 सहायक प्रबंधक तत्काल प्रभाव से निलंबित

आईपीएल दुनिया की सबसे बड़ी क्रिकेट लीग है। ऐसी स्थिति में इंग्लैंड आईपीएल टूर्नामेंट को होस्ट करना चाहता है। इसका सबसे बड़ा कारण करोड़ों की कमाई और रिवेन्यू के साथ-साथ अपने देश के टूरिज्म को फायदा देना भी है। वहीं अगर आईपीएल की मेजबानी इंग्लैंड को सौंपी जाती है तो जून-जुलाई में आईपीएल के 31 मैच पूरे होने के बाद 4 अगस्त से भारत और इंग्लैंड के बीच पांच टेस्ट मैचों की सीरीज खेली जाएगी। जिसको देखते हुए माना जा रहा है कि बीसीसीआई और ईसीबी सीरीज से पहले टूर्नामेंट के लिए तैयार हो सकते हैं।