लवर पाइंट रोड़ पर लवर जोड़े ने कर डाली खुदकुशी, ये है मामला

इंदौर के बाणगंगा थाना प्रभारी राजेन्द्र सोनी ने बताया मामला प्रेम प्रसंग का है और पुलिस पूरे मामले की तफ्तीश में जुटी है। इधर, पुलिस को ये भी पता चला है दोनों ही प्रेमी जोड़े के परिजन निपानिया क्षेत्र में चौकीदारी का काम करते है और मूलतः वो कांटा फोड़ बागली के निवासी है।

इंदौर, आकाश धोलपुरे।  तेजी से बढ़ रहे इंदौर में अब लॉक डाउन के दौरान पनपे प्यार के परिणाम भी सामने आने लगे है। दरअसल, लॉक डाउन में सताए कोरोना के आतंक के बीच युवा एक तरह से घर पर बोर हो चले थे और लाइफ में मिल रहे फ्री टाइम में युवाओ ने विपरीत सेक्स के प्रति ऐसा रुझान दिखाया कि अब इंदौर में भयावह परिणाम सामने आने लगे है। बुधवार को जहां लॉक डाउन में पनपे प्यार को अनलॉक में शादी का सहारा मिला लेकिन जितनी तेजी से प्यार परवान चढ़ा उतनी ही तेजी से प्यार का भूत उतर गया और आखिर में पति ने 2 माह पहले जिस युवती से शादी की थी उसकी जान ले ली थी।

इस घटना के 24 घण्टे भी नही बीते थे कि इंदौर प्यार में बहुत हद तक डूब चुके प्रेमी जोड़े ने फांसी लगा ली। हालांकि मामला भले ही हाईप्रोफ़ाइल न हो लेकिन जो बातें सामने आई है उससे ये पता चल रहा है कि किस कदर एक 20 साल के युवक और एक नाबालिग युवती के बीच बीते कुछ माह में प्रेमरोग ने पीछा पकड़ रखा था कि आखिर में दोनों 2 दिन पहले घर छोड़कर भागने का फैसला लिया लेकिन दोनों के मन मे एक अजीब सा डर ही होगा कि दोनों ने एक साथ फांसी पर झूलने का फैसला ले लिया।

Read More: बीजेपी के पूर्व संभागीय संघठन मंत्री अरविंद कवठेकर का निधन, पार्टी में शोक लहर

पूरा मामला इंदौर के बाणगंगा थाना क्षेत्र के लवर पाइंट रोड़ का है जो हर बड़े शहर की तरह सूना पड़ा रहता है जहां अक्सर युवा जोड़े दिखाई दे जाते है। शहर के सुपर कॉरिडोर से सटे लव कुश चौराहे के समीप सर्विस रोड़ पर दोनों युवक युवती आज साथ मे पेड़ पर लटके मिले। जिसकी जानकारी पुलिस को उन सफाईकर्मियों ने दी जो इंदौर को नम्बर 1 बनाने में लगे रहते है। इसके बाद मौके पर पुलिस पहुँची तो पता चला पेड़ पर लटके युवक का नाम दिलीप पंवार है वही युवती का नाम दुर्गा सामने आया है।

दोनों ही इंदौर के लसूड़िया थाना क्षेत्र के निपानिया इलाके कृष्ण विहार क्षेत्र के निवासी है। वही मौके पर पहुंची बाणगंगा पुलिस को ये भी पता चला कि युवती के परिजनों ने युवती के घर से गुम हो जाने की शिकायत लसूड़िया थाने पर की थी।
मृतक प्रेमी के परिजनों की माने तो दिलीप ने मिस्त्री का काम करता है और उसने दो दिन पहले अपने ठेकेदार से किसी का घर का सामान शिफ्ट करने के लिये छुट्टी ली थी। इसके बाद लड़की के गायब होने की जानकारी सामने आई तो लड़की के परिजनों ने दिलीप के भाई के साथ मारपीट कर उसे थाने पहुंचा दिया था।

Read More: राजनीति से रजनीकांत ने बनाई दूरी, सेहत का दिया हवाला

इधर, इंदौर के बाणगंगा थाना प्रभारी राजेन्द्र सोनी ने बताया मामला प्रेम प्रसंग का है और पुलिस पूरे मामले की तफ्तीश में जुटी है। इधर, पुलिस को ये भी पता चला है दोनों ही प्रेमी जोड़े के परिजन निपानिया क्षेत्र में चौकीदारी का काम करते है और मूलतः वो कांटा फोड़ बागली के निवासी है। घटना स्थल के समीप एक बाइक भी मिली है जिससे ये अंदाजा लगाया जा सकता है किसी फिल्मी जोड़े की तरह घर छोड़ चुके प्रेमी युगल ने सपने तो खूब सजाए होंगे लेकिन आखिर में न जाने वो कौन सा अंजाना डर उन्हें सता रहा था

जिसके कारण उन्होंने सुनसान इलाके की झाड़ियों में कभी न साथ छोड़ने की इबारत लिख डाली और एक ऐसा कदम उठा लिया कि बस अब उनकी यादे ही उनके करीबियों के पास रह गई है। हालांकि पुलिस इस मामले के प्रारंभिक तौर पर प्रेम प्रसंग के चलते खुदकुशी के मामले में जांच करने में जुटी है लेकिन कभी कभी ऐसी घटनाओं में ऑनर किलिंग की बात भी सामने आ जाती है लिहाजा, दिलीप और दुर्गा की प्रेम की दास्तां और उनकी मौत की हकीकत का पता लगाने के पुलिस हर बिंदु पर जांच कर रही है। फिलहाल, लवर पॉइंट रोड़ पर हुई इस घटना ने पूरे शहर में सनसनी फैला दी है।