मप्र में मेडिकल छात्रों को सौगात, सरकार ने लिया यह बड़ा फैसला

इस योजना में शामिल होने वाले छात्र साल में दो लाख तक का इलाज करा सकेंगे। मौत होने पर 10 लाख रुपये और स्थाई व अस्थाई दिव्यांगता पर पांच-पांच लाख रुपये की मदद मिलेगी

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट| मेडिकल छात्रों के लिए मध्य प्रदेश सरकार (MP Government) ने बड़ा फैसला लिया है| प्रदेश में मेडिकल, नर्सिंग और पैरामेडिकल के छात्रों का स्वास्थ्य बीमा (Health Insurance) कराया जाएगा| चिकित्सा शिक्षा छात्र को उनके संपूर्ण अध्ययन अवधि में राज्य सरकार द्वारा बीमा दिया जाएगा। इस बीमा योजना के लिए वार्षिक प्रीमियम की राशि को संबंधित महाविद्यालय द्वारा वहन किया जाएगा। यह घोषणा चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास कैलाश सारंग (Vishvas Sarang) ने शुक्रवार की। उन्होंने यह भी दावा किया कि चिकित्सा क्षेत्र के छात्रों के लिए देश में यह संभवत: पहली योजना होगी।

इस योजना में शामिल होने वाले छात्र साल में दो लाख तक का इलाज करा सकेंगे। मौत होने पर 10 लाख रुपये और स्थाई व अस्थाई दिव्यांगता पर पांच-पांच लाख रुपये की मदद मिलेगी| चिकित्सा शिक्षा छात्र बीमा योजना के तहत प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा विभाग के अधीन शासकीय/स्वशासी शासकीय महाविद्यालयों में पढ़ाई कर रहे 15 हजार से अधिक छात्रों को लाभ मिल सकेगा।

बीमा योजना के अंतर्गत चिकित्सा शिक्षा छात्रों को चयनित बीमा कंपनी के द्वारा मेडिक्लेम के लिए कैशलेस कार्ड की सुरक्षा प्रदान की जाएगी। कैशलेस कार्ड के माध्यम से वे मप्र के अलावा किसी भी राज्य के अस्पताल में इलाज करा सकेंगे। यह इलाज तभी मिलेगा, जबकि बीमा करने वाली कंपनी का संबंधित प्रदेशों में मौजूद अस्पतालों से अनुबंध होगा। मेडिक्लेम के अंतर्गत क्रिटिकल बीमारियों का इलाज सम्मिलित रहेगा। साथ ही योजना में छात्रों की पूर्व से मौजूद बीमारियों को भी मेडिक्लेम में शामिल किया जाएगा|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here