IGNOU

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट।  मध्य प्रदेश (MP) के कॉलेज (College) छात्रों (Student) के लिए बड़ी खबर है। उच्च शिक्षा विभाग (Higher Education Department)  से अनुमति मिलने के बाद भोज मुक्त विश्वविद्यालय (Bhoj Open University) 134 शासकीय महाविद्यालयों (Government colleges) में नए अध्ययन केंद्र खोलने जा रहा है। इसके लिए आज मंगलवार को मंत्री भोपाल के मिन्टो हॉल  (Minto Hall Bhopal)  में अनुबंध समारोह रखा गया था, इसमें अनुबंध-पत्र आदान-प्रदान किये गये।

यह भी पढ़े… MP College : उच्च शिक्षा विभाग का बड़ा फैसला- ऐसा करने पर मिलेगी कॉलेजों को मदद

इस मौके पर उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव (Higher Education Minister Dr. Mohan Yadav) ने कहा कि मध्य प्रदेश भोज मुक्त विश्वविद्यालय (Madhya Pradesh Bhoj Open University)  134 नये अध्ययन केन्द्र खोलने ( (New learning center) )जा रहा है, जो आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश की दिशा में महत्वपूर्ण उपलब्धि होगी। इन केन्द्रों के माध्यम से विद्यार्थियों को ऑनलाइन अध्ययन (Online Study) की सुविधा मिल सकेगी।

उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. यादव ने कहा कि राजा भोज को हर क्षेत्र का ज्ञान था। इसे ध्यान में रखकर भोज मुक्त विश्वविद्यालय की स्थापना हुई है। यह विश्वविद्यालय विद्यार्थियों के सकल पंजीयन अनुपात को बढ़ाने में गंभीरता से निर्वहन करेगा। नई शिक्षा नीति (New Education Policy) के क्रियान्वयन में विश्वविद्यालय (University) की महत्वपूर्ण भूमिका होगी। रामचरित मानस से सामाजिक विकास पाठ्यक्रम एवं भोज कैलेण्डर का विमोचन किया।

यह भी पढ़े… MP School : सरकारी स्कूलों के शिक्षकों को मिलेगी जल्द नई जिम्मेदारी, छात्रों को मिलेगा लाभ

प्रमुख सचिव अनुपम राजन ने कहा कि दूरस्थ शिक्षा के माध्यम से विद्यार्थियों को अध्ययन की सुविधा देने की दिशा में लगातार प्रयास जारी है। उच्च शिक्षा के प्रति विभाग समर्पण भाव से कार्य कर रहा है। विद्यार्थियों को गुणवत्तापूर्ण उच्च शिक्षा एवं बेहतर सुविधाएँ उपलब्ध कराना विभाग की प्राथमिकता है।

कुलपति डॉ. जयंत सोनवलकर ने कहा कि भोज मुक्त विश्वविद्यालय उच्च शिक्षा के क्षेत्र में लगातार अपने अभिनव प्रयास कर रहा है। विश्वविद्यालय आधुनिक तकनीकों के माध्यम से दूरस्थ शिक्षा के लिये नये-नये प्रयोग करने में कोई कमी नहीं छोड़ेगा। कोरोना काल में ऑनलाइन शिक्षा (Online Education) के क्षेत्र में भोज मुक्त विश्वविद्यालय के ऑडियो-वीडियो (Audio-Video) की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

यह भी पढ़े… MP Board : 10वीं-12वीं के छात्रों को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज ने दिए ये निर्देश, 42 हजार को मिलेगा लाभ

गौरतलब है कि यह पहला मौका नही है इसके पहले भी विश्वविद्यालय द्वारा 277 शासकीय महाविद्यालयों में अध्ययन केन्द्र स्थापित किये जा चुके हैं।अबतक दूरस्थ शिक्षा पद्धति से ‘आपकी शिक्षा-आपके द्वार’ के तहत 277 अध्ययन केन्द्रों से विद्यार्थियों को शिक्षा दी जा रही थी। अब 134 नये अध्ययन केन्द्र खुल जाने से 411 अध्ययन केन्द्रों द्वारा 2 लाख से अधिक विद्यार्थी (College Student) इसका लाभ ले सकेंगे।