सरकार के सामने झुका Twitter, नियुक्त किया Resident Grievance Officer

हालाँकि Twitter ने डेड लाइन निकलने के बाद इसे लागू किया है जिसका खामियाजा उसे नियमानुसार भुगतना होगा।   

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट।  भारत के IT नियमों को मानने के सरकारी फरमान को आखिरकार Twitter ने मान लिया है। Twitter ने भारत में अपना Resident Grievance Officer नियुक्त कर दिया है। Twitter ने इसकी जानकारी अपनी अधिकृत वेवसाइट पर शेयर की है। माना जा रहा है कि ये नए IT मिनिस्टर की चेतावनी का असर है।

भारत सरकार के नए IT नियमों को मानने से आनाकानी करने वाले Twitter ने आखिरकार भारत में अपना Resident Grievance Officer नियुक्त कर दिया है। Twitter ने भारत में विनय प्रकाश को Resident Grievance Officer बनाया है।  Twitter ने अपनी अधिकृत वेबसाइट पर इसकी पूरी जानकारी शेयर की है।

ये भी पढ़ें – Rare Note: 10 रूपए का ये नोट आपको दिलाएगा 30 हजार रुपए, करना होगा ये काम

रविशंकर प्रसाद की चेतावनी बेअसर साबित हुई 

गौरतलब है कि भारत सरकार ने 25 फरवरी को नए IT नियमों की घोषणा की थी इन नियमों को तीन महीने के अंदर लागू किया जाने था और इन नियमों को सभी को मनन बाध्यकारी था लेकिन Twitter इसे मानने में आनाकानी कर रहा था , पूर्व IT मिनिस्टर रविशंकर प्रसाद ने कई बार Twitter को चेतावनी दी लेकिन उस पर कोई असर नहीं हुआ।

ये भी पढ़ें – गैरकानूनी हथियारों की सप्लाई करने वाले नेटवर्क का पुलिस ने किया पर्दाफाश, यू-ट्यूब पर प्रमोशन कर बेचते थे हथियार

नए IT मिनिस्टर की पहली ही चेतावनी का हुआ असर   

उधर मोदी मंत्रिमंडल विस्तार में बने नए IT मिनिस्टर अश्विनी वैष्णव की पहली की पहली ही चेतावनी का असर हो गया।  8 जुलाई को अश्विनी  वैष्णव ने IT मंत्रालय संभाला और Twitter को चेतावनी दी कि देश का कानून सबसे ऊपर है और इसे मानना ही होगा उसके तीन दिन बाद आज Twitter ने अपनी अधिकृत वेबसाइट पर Resident Grievance Officer की नियुक्ति की जानकारी शेयर कर दी।  हालाँकि Twitter ने डेड लाइन निकलने के बाद इसे लागू किया है जिसका खामियाजा उसे नियमानुसार भुगतना होगा।

सरकार के सामने झुका Twitter, नियुक्त किया Resident Grievance Officer

ये भी पढ़ें – घर के बाहर खड़ी मासूम को तेज रफ्तार कार ने कुचला, मौत, लोगों ने कार में की तोड़फोड़