CG Weather: मौसम में बदलाव, बारिश के आसार, 4 संभागों से मानसून विदा, जानें विभाग का पूर्वानुमान

राज्य के विभिन्न जिलों में 01 जून से आज 20 अक्टूबर तक रिकार्ड की गई वर्षा के अनुसार बीजापुर जिले में सर्वाधिक 2453.4 मिमी और सरगुजा में जिले में सबसे कम 640.7 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गयी है। 

mp weather Today

रायपुर, डेस्क रिपोर्ट। एक तरह छत्तीसगढ़ के बस्तर संभाग को छोड़कर प्रदेशभर से मानसून विदा हो गया है, वही दूसरी तरफ दिवाली से पहले फिर प्रदेश के मौसम के मिजाज बदलने के आसार है। छग मौसम विभाग (CG Meteorological Department) के अनुसार बंगाल की खाड़ी से आ रही नम हवाओं के प्रभाव से आज शुक्रवार को बस्तर क्षेत्र में बारिश के आसार है, वही बंगाल की खाड़ी में एक चक्रवात के अवदाब में बदलने से दिवाली से पहले सरगुना संभाग में बारिश के संकेत है।अक्टूबर अंत तक आखिर सप्ताह में ठंड की दस्तक दे सकती है।

यह भी पढ़े..कर्मचारियों को दिवाली का तोहफा, वेतन में 25 प्रतिशत तक वृद्धि, खाते में बढ़कर आएगी सैलरी

छग मौसम विभाग (CG weather forecast) के मुताबिक, बंगाल की खाड़ी से नमी आ रही है, के कारण आज शुक्रवार 21 अक्टूबर को एक-दो स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश होने या गरज-चमक के साथ बौछार पड़ने की संभावना है। बंगाल की खाड़ी से आ रही नम हवाओं के प्रभाव से शुक्रवार को बस्तर क्षेत्र में हल्की वर्षा होने की संभावना है। वही बिलासपुर में आसमान साफ रहने का अनुमान है।

छग मौसम विभाग (CG weather Today) के मुताबिक, बिलासपुर के बाद गुरुवार को दक्षिण पश्चिम मानसून की विदाई रायपुर, दुर्ग और सरगुजा संभाग से हो गई। बंगाल की खाड़ी में एक चक्रवात के अवदाब में बदलने की संभावना के बीच उत्त्तरी छत्तीसगढ़ में फिर दिवाली के दौरान बादलों की आवाजाही और बारिश के आसार है । बस्तर और सरगुजा संभाग में मौसम बिगड़ने की आशंका है।22 अक्टूबर के बाद चक्रवात अपने निर्धारित दिशा में आगे बढ़ेगा।

यह भी पढ़े..दिवाली बाद कर्मचारियों को मिलेगा एक और तोहफा, खाते में आएंगे 56000 से 81000, ऐसे करें चेक, जानें अपडेट

छग मौसम विभाग (CG weather Today) के मुताबिक, दक्षिण-पश्चिम मानसून की विदाई के लिए परिस्थितियां अनुकूल बन रही हैं, जिसके कारण प्रदेश में अगले एक-दो दिन में प्रदेश के शेष भाग से भी मानसून की विदाई संभव है। प्रदेश में एक से 20 अक्टूबर तक 72.4 मिमी वर्षा हुई है। यह वर्षा सामान्य की तुलना में 57 प्रतिशत ज्यादा है।

बता दे कि राज्य शासन के राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा बनाए गए राज्य स्तरीय नियंत्रण कक्ष द्वारा संकलित जानकारी के मुताबिक एक जून 2022 से अब तक राज्य में 1314.7 मिमी औसत वर्षा दर्ज की जा चुकी है। राज्य के विभिन्न जिलों में 01 जून से आज 20 अक्टूबर तक रिकार्ड की गई वर्षा के अनुसार बीजापुर जिले में सर्वाधिक 2453.4 मिमी और सरगुजा में जिले में सबसे कम 640.7 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गयी है।

अबतक 1314.7 मिमी औसत वर्षा दर्ज

राज्य स्तरीय बाढ़ नियंत्रण कक्ष से प्राप्त जानकारी के अनुसार एक जून से अब तक सूरजपुर में 1074.9 मिमी, बलरामपुर में 1116.0 मिमी, जशपुर में 1143.8 मिमी, कोरिया में 925.4 मिमी, रायपुर में 960.1 मिमी, बलौदाबाजार में 1212.8 मिमी, गरियाबंद में 1317.6 मिमी, महासमुंद में 1180.6 मिमी, धमतरी में 1359.6 मिमी, बिलासपुर में 1502.3 मिमी, मुंगेली में 1382.9 मिमी, रायगढ़ में 1252.4 मिमी, जांजगीर-चांपा में 1405.9 मिमी, कोरबा में 1264.2 मिमी, गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही में 1125.9 मिमी, दुर्ग में 1042.8 मिमी, कबीरधाम में 1210.3 मिमी, राजनांदगांव में 1271.3 मिमी, बालोद में 1343.9 मिमी, बेमेतरा में 757.2 मिमी, बस्तर में 1890.5 मिमी, कोण्डागांव में 1333.2 मिमी, कांकेर में 1614.7 मिमी, नारायणपुर में 1542.6 मिमी, दंतेवाड़ा में 1855.3 मिमी और सुकमा में 1630.1 मिमी औसत वर्षा रिकार्ड की गई।