लोगों और प्रशासन के एकीकृत प्रयासों से महासमुंद के दो गांव में थमा कोरोना संक्रमण

महासमुंद जिले के 2 गांव में कोरोना संक्रमण (Corona infection) फैलने के बाद ग्रामीणों ने खुद की सजगता से उस पर काबू पा लिया।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। कहते है अगर आप कुछ करने का ठान लो तो कोई भी काम नामुमकिन नहीं होता। ऐसा ही कुछ कर दिखाया है छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के महासमुंद जिले के ग्रामीणों ने जहां 2 गांव में कोरोना संक्रमण (Corona infection) फैलने के बाद लोगों ने खुद की सजगता से उस पर काबू पा लिया।

यह भी पढ़ें….अस्पताल में मंत्रीजी के सामने बिफरी महिला, पति से न मिलने देने पर भड़कीं

सरायपाली (Saraipali) विकासखंड के कुटेला (kutela) और तोरेसिंहा (Toresingha) गांव भी कोरोना महामारी से अछूते नहीं थे। वहां भी लोगों को संक्रमण ने अपनी चपेट में ले लिया था। जिसके बाद वहां कंटेंटमेंट जोन (Containment Zone) बनाया गया और दोनों गांव की पंचायतों ने स्थानीय प्रशासन के कर्मचारियों और स्वास्थ्य विभागकी मदद से संक्रमित मरीजों की मदद के हर संभव प्रयास किए। जिसमें उन्हें किराना सामग्री से लेकर दूध, सब्जी, दवा जैसी हर दैनिक चीजों की सुविधा पहुंचाई। बता दें कि यहां केंद्रीय टीम भी निरीक्षण करने आई थी और ग्रामीणों के प्रयासों को देखकर उनकी सराहना भी की।

लोगों और प्रशासन के एकीकृत प्रयासों से महासमुंद के दो गांव में थमा कोरोना संक्रमण

गौरतलब है कि संक्रमित व्यक्तियों के संपर्क में आए लोगों की शिक्षकों द्वारा तुरंत ट्रेसिंग की गई जिससे कि संक्रमण फैलने का खतरा कम हो सके और लोगों को सचेत कर सके। वही दोनों ग्राम पंचायतों में उनकी सुरक्षा के अनुसार बंद (Lockdown) किया गया और बैरिकेडिंग की गई वही दोनों गांवों को पूरी तरह सैनिटाइज भी करवाया गया। कोरोणा संक्रमित मरीजों को यह भी सुविधा दी गई कि वह किसी भी परेशानी में तत्काल अधिकारियों से संपर्क कर सकते हैं जिसके चलते मरीजों के मकानों पर अधिकारियों के नंबर भी चिपकाए गए। साथ ही पुलिस कंट्रोल रूम से संक्रमित मरीजों से फोन पर संपर्क कर जानकारी भी ली जा रही है ताकि कोई भी गंभीर परिस्तिथि में मरीजों को तुरंत सेवाएं और सुविधाएं उपलब्ध कर सके और बतादें कि इन्हीं सब प्रयासों से इन दोनों गांव में कोरोना संक्रमण थम गया है।

इन दोनों गांव के ग्रामीणों और स्थानीय प्रशासन ने यह बात जरूर बताई है कि केवल सरकार के प्रयासों से ही कोरोना संक्रमण पर काबू नहीं पाया जा सकता है, बल्कि जनसहयोग और जनभागीदारी भी इस महामारी को रोकने के लिए बहुत जरूरी है। केवल सरकार ही नहीं लोगों को भी कोरोना के लिए हर संभव प्रयास करने होंगे और सतर्कता बरतनी होगी जिससे जल्द से जल्द देश कोरोना मुक्त हो सके।

यह भी पढ़ें….भोपाल कलेक्टर ने जारी किए आदेश- ऐसा किया तो होगी कानूनी कार्रवाई