IMD Alert : चक्रवाती तूफान सहित 5 सिस्टम सक्रिय, 15 अक्टूबर तक 20 से अधिक राज्यों में भारी बारिश का रेड-ऑरेंज अलर्ट, जानें यूपी-बिहार दिल्ली पर पूर्वानुमान

बिहार के 25 जिलों में भारी बारिश का येलो ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। गरज चमक की चेतावनी दी गई है

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। देश के मौसम में बदलाव (weather update) शुरू हो गया है। दरअसल IMD Alert ने कई राज्य में लगातार बारिश की गतिविधि (heavy rain) देखने को मिल रही है। वहीं 20 अक्टूबर के बाद गुलाबी ठंड की दस्तक होगी। इससे पहले दिल्ली से महाराष्ट्र तक भारी बारिश का रेड ऑरेंज अलर्ट (Red orange alert) जारी कर दिया गया है। यूपी में भी मौसम में बदलाव देखने को मिल रहा है। बिहार झारखंड पश्चिम बंगाल उड़ीसा सहित मध्य प्रदेश के क्षेत्र में भारी बारिश की संभावना जताई गई है। इसके लिए IMD द्वारा alert जारी कर दिया गया है।

चक्रवाती तूफान नोरु सहित पूरे देश में चार चक्रवाती सिस्टम सक्रिय हैं। जिसके कारण उत्तर प्रदेश हरियाणा राजस्थान सहित मध्य भारत और उत्तर पूर्व सहित दक्षिण भारत में बारिश की गतिविधि संचालित होगी। उत्तरी भारत के कई राज्यों में मौसम में बदलाव शुरू होंगे। पर्वतीय राज्य जम्मू कश्मीर सहित लेह लद्दाख में पर्वतों पर बर्फबारी का दौर शुरू हो गया है। राष्ट्रीय राजधानी में भी मौसम में बदलाव देखने को मिल रहा है।

नई दिल्ली में बारिश

मौसम विभाग ने आज राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में बारिश का अलर्ट जारी किया है दरअसल तापमान में एक तरफ जहां 5 फीसद की गिरावट देखी जाएगी वहीं दिल्ली में मौसम बदलेगा दिल्ली में 15 अक्टूबर तक बूंदाबांदी का दौर जारी रहेगा। इसके अलावा गलत चमक का भी अलर्ट जारी किया गया है।

उत्तर प्रदेश के 49 जिले में भारी बारिश का अलर्ट

उत्तर प्रदेश के 49 जिले में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। 11 अक्टूबर तक क्षेत्रों में बारिश होती रहेगी वहीं जिलों में स्कूल बंद रखने के दिशा निर्देश जारी किए गए हैं। बता दें कि 24 घंटे में उत्तर प्रदेश में मौसम बदलने वाला है। साथ ही कोहरे की दस्तक भी देखने को मिलेगी। रात के समय तापमान में 5 फीसद की गिरावट के साथ ठंड का अनुभव होगा और आने वाले कुछ दिनों में उत्तर प्रदेश में ठंड की दस्तक देखने को मिल जाएगी।

बारिश की आशंका को देखते हुए गोंडा और इटावा में स्कूल बंद रखा गया है। साथ ही जौनपुर अंबेडकर नगर महाराजगंज सोनभद्र से चंदौली वाराणसी गाजीपुर बलिया मिर्जापुर कौशांबी फतेहपुर रायबरेली लखीमपुर खीरी सीतापुर कानपुर कानपुर बांदा झांसी में आज बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में आकाशीय बिजली गिरने की भी संभावना जताई गई है।

Read More : कर्मचारियों के लिए महत्वपूर्ण खबर, अतिरिक्त भुगतान पर DoPT ने जारी किए नवीन आदेश, पालन करना होगा अनिवार्य

बिहार के 25 जिलों में भारी बारिश का येलो ऑरेंज अलर्ट

बिहार के 25 जिलों में भारी बारिश का येलो ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। गरज चमक की चेतावनी देने के साथ ही बिहार में नौरू चक्रवात का प्रभाव देखने को मिलेगा। बारिश की गतिविधि राशि के उत्तर पश्चिम भाग में प्रभावी होगी।

मध्य भारत में बारिश

मानसून ट्रफ तटीय आंध्र प्रदेश से लेकर उत्तराखंड तक और तेलंगना पश्चिम मध्य प्रदेश और पश्चिम उत्तर प्रदेश की ओर बने चक्रवर्ती परिसंचरण के गुजरने की वजह से इन क्षेत्रों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।

झारखंड के कई इलाकों में भारी बारिश का अलर्ट

झारखंड में फिलहाल बारिश से राहत की उम्मीद से इनकार किया गया है। झारखंड के कई इलाकों में भारी बारिश का अलर्ट जारी कर दिया गया। 18 जिलों में भारी बारिश की संभावना जताई गई है। साथ ही गरज चमक का अलर्ट जारी करते हुए वज्रपात की संभावना जताई गई है। झारखंड में भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया। दुमका देवघर संथाल परगना सहित साहिबगंज रांची धनबाद टाटा नगर आदि क्षेत्रों में आज बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।

मौसम प्रणाली

  • दक्षिण-पश्चिम मानसून की वापसी रेखा उत्तरकाशी, नजीबाबाद, आगरा, ग्वालियर, रतलाम, भरूच और लांग से होकर गुजरती है।
  • एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र गुजरात के ऊपर बना हुआ है, और एक ट्रफ रेखा शनिवार तक चक्रवाती परिसंचरण से उत्तर-पूर्व की ओर पश्चिम उत्तर प्रदेश तक फैली हुई है।
  • चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र कमजोर होने के साथ ही ट्रफ कई दिनों तक उसी स्थान पर रुकी रहेगी।
  • ये सिस्टम मध्य भारत और पश्चिम भारत के पश्चिमी हिस्सों में कई दिनों तक स्थानीय रूप से भारी बारिश के साथ व्यापक रूप से व्यापक बारिश करेंगे,
  • जबकि दक्षिण-पश्चिम मानसून की वापसी के साथ-साथ पूर्व की ओर धीरे-धीरे आगे बढ़ेंगे।
  • इस बीच, इस सप्ताह के अंत में सबसे गंभीर वर्षा की अवधि होगी, जिसमें पश्चिम उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में कुल 200 मिमी की भारी गिरावट होगी।
  • एक और चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बंगाल की खाड़ी से तटीय आंध्र प्रदेश के पास पहुंचेगा और कई दिनों तक दक्षिण भारत में स्थानीय रूप से भारी बारिश के साथ व्यापक रूप से व्यापक बारिश होगी।
  • पूर्व की ओर, दक्षिण-पश्चिमी हवाएँ कई दिनों तक पूर्वोत्तर भारत में प्रत्येक दिन 50 मिमी की स्थानीय रूप से भारी गिरावट के साथ लगातार बारिश का उत्पादन करेंगी।

इन क्षेत्रों में भरी बारिश

मध्य भारत के पश्चिमी भागों, पश्चिम भारत और दक्षिण प्रायद्वीपीय भारत के पूर्वी तट पर स्थानीय रूप से भारी वर्षा के साथ व्यापक रूप से व्यापक वर्षा होने की संभावना है। उत्तराखंड और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भारी बारिश की संभावना है। पूर्वोत्तर भारत में भारी बारिश की संभावना है। गंगीय पश्चिम बंगाल, झारखंड, पंजाब, हिमाचल प्रदेश और पश्चिमी राजस्थान में गरज के साथ छिटपुट बारिश की संभावना है।

पश्चिमी उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और रायलसीमा में गरज के साथ व्यापक बारिश की संभावना है।
अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, उप-हिमालयी, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, पूर्वी उत्तर प्रदेश, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, पूर्वी राजस्थान, पश्चिम मध्य प्रदेश, गुजरात क्षेत्र, कोंकण में गरज के साथ व्यापक बौछारें पड़ने की संभावना है।

गोवा, मध्य महाराष्ट्र, मराठवाड़ा, तटीय आंध्र प्रदेश, यनम, तेलंगाना, तमिलनाडु, पुडुचेरी, कराईकल और दक्षिण आंतरिक कर्नाटक, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, ओडिशा, बिहार, पूर्वी मध्य प्रदेश, सौराष्ट्र, कच्छ, विदर्भ, छत्तीसगढ़, तटीय और उत्तरी आंतरिक कर्नाटक, केरल, माहे और लक्षद्वीप में गरज के साथ छींटे पड़ने की संभावना है।

MP के 20 जिलों में भारी बारिश का येलो अलर्ट

वहीं मध्य प्रदेश के 20 जिलों में भारी बारिश का येलो अलर्ट जारी किया गया है। इसके अलावा राजस्थान छत्तीसगढ़ उत्तर प्रदेश दिल्ली एनसीआर में भी मौसम में बदलाव देखने को मिलेगा। इन क्षेत्रों में भी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।

मध्य भारत उत्तराखंड में 12 अक्टूबर तक भारी बारिश का अलर्ट

उत्तराखंड उत्तर प्रदेश में 15 अक्टूबर तक जबकि राजस्थान पंजाब और हरियाणा में 9 अक्टूबर तक भारी बारिश की संभावना जताई गई है मध्य प्रदेश में 11 अक्टूबर तक बारिश का दौर जारी रहेगा। तटीय आंध्र प्रदेश तेलंगाना पश्चिम बंगाल और उड़ीसा में भारी बारिश का रेड ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

चक्रवाती परिसंचरण निर्मित होने और पांच सिस्टम के सक्रिय होने की वजह से इन क्षेत्रों में वज्रपात के साथ चमक और भारी बारिश का रेड अलर्ट घोषित किया गया। कई जिलों में प्रशासन को जाने की सलाह दी गई है। मौसम में लगातार हो रहे बदलाव के बीच 2 अन्य सिस्टम के सक्रिय होने की संभावना जताई गई है।

पूर्वी राज्य में भी भारी बारिश का अलर्ट

पूर्वी राज्य में भी भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। दरअसल मेघालय मणिपुर नगालैंड मणिपुर मिजोरम त्रिपुरा सहित सिक्किम में 15 अक्टूबर तक चमक के साथ भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। इन क्षेत्रों में रेड ऑरेंज अलर्ट जारी करते हुए लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी गई है। इन क्षेत्रों में फिलहाल बारिश का दौर जारी रहेगा। जल्द ही ठंड की दस्तक देखने को मिलेगी।