MP Weather Alert: मप्र के इन जिलों में बारिश के आसार, Tauktae तूफान का भी दिख सकता है असर

भारतीय मौसम विभाग (Weather Forecate) का पूर्वानुमान है कि देश के पश्चिमी तट पर रविवार तक साल का पहला चक्रवाती तूफान दस्तक देगा।

weather

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। अरब सागर में बनने वाला ‘Tauktae’ तूफान का असर 16 मई को अन्य राज्यों समेत मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में भी देखने को मिल सकता है। अगले 72 घंटों में मध्य प्रदेश के मौसम के भी बिगड़ने की संभावना है। इसके पहले मौसम विभाग  (Weather Department)  ने आज शुक्रवार को 2 संभागों और आधा दर्जन जिलों में गरज चमक के साथ तेज हवाओं और बारिश (Rain) की संभावना जताई है और येलो अलर्ट जारी किया है।

यह भी पढ़े.. MP College: UG और PG के छात्रों को बड़ी राहत, अब 31 मई तक भर सकते है परीक्षा फॉर्म

मौसम विभाग  के अनुसार, अगले 24 घंटे में ग्वालियर चंबल संभागों के जिलों के साथ पन्ना, रीवा, छतरपुर, दमोह, टीकमगढ़, शहडोल, सतना, अनूपपुर, उमरिया जिलों में गरज चमक के साथ बारिश हो सकती है।इन जिलों में बिजली चमकने और गरजने की संभावना है।इससे पहले गुरूवार को सतना में 4.0, भाेपाल में 0.2 मिलीमीटर बारिश हुई।

मौसम विभाग (Weather Alert) की माने तो अरब सागर में 16 मई को ‘Tauktae’ साइक्लोन बनने की संभावना है, जिसके कारण 17 मई से 19 मई तक प्रदेश के कई हिस्सों में बारिश हो सकती है।  17 मई से प्रदेश के कई जिलाें में तेज हवाएं चलेंगी। साथ हर 18-19 मई काे कई स्थानाें पर झमाझम बरसात हाे सकती है। हालांकि इसको लेकर सटीक स्थिति 48 घंटे बाद ही साफ हो पाएगी।

मौसम विभाग (Weather Cloud) की माने तो वर्तमान में एक साथ 5 सिस्टम एक्टिव है। एक पश्चिमी विक्षाेभ पाकिस्तान पर, दूसरा पाकिस्तान और उससे लगे राजस्थान पर एक ऊपरी हवा का चक्रवात, तीसरा दक्षिण-पूर्वी मप्र पर एक ऊपरी हवा का चक्रवात, चौथा इसी चक्रवात से लेकर तमिलनाडू तक एक द्राेणिका लाइन (ट्रफ) और पांचवा एक अन्य ट्रफ असम तक बना होने के कारण बारिश का सिलसिला जारी है।

इन राज्यों में दिखेगा तूफान बड़ा असर

भारतीय मौसम विभाग (Weather Forecate) का पूर्वानुमान है कि देश के पश्चिमी तट पर रविवार तक साल का पहला चक्रवाती तूफान दस्तक देगा। भारत के पश्चिमी तट पर 16 मई तक चक्रवाती तूफान की संभावना है। इसी के चलते 14 से 16 मई के बीच केरल, कर्नाटक, तमिलनाडु, और महाराष्ट्र समेत कई इलाकों में भारी बारिश हो सकती है। वही 20 मई को कच्छ क्षेत्र से गुजरते हुए दक्षिण पाकिस्तान का रुख कर सकता है। यदि ऐसा होता है तो यह गुजरात के तटीय इलाकों में 17 या 18 मई तक पहुंचेगा।

weather weather weather