Facebook लाइव में सीएम शिवराज का ऐलान, लॉकडाउन के दौरान मज़दूरों को मिलेगा पैसा, न देने पर फैक्ट्री प्रबंधन पर कार्रवाई

भोपाल।

प्रदेश में फैली महामारी के बीच आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जनता से रूबरू हुए। फेसबुक के जरिए प्रदेशवासियों से चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री चौहान ने मजदूरों के लिए एक बड़ा ऐलान करते हुए कहा है कि जिन फैक्ट्रियों में मजदूर काम करते थे , जो लॉक डाउन की वजह से काम पर नहीं जा रहे। उन मजदूरों को घर बैठने पर भी फैक्ट्री प्रबंधन बराबर मजदूरी का पैसा देगा। ऐसा नहीं करने पर फैक्ट्री प्रबंधन पर कार्रवाई की जाएगी।

मुख्यमंत्री चौहान ने मजदूरों से अपील करते हुए उनसे कहा है कि वह जहा है वही रहे। उनके रहने खाने की व्यवस्था के लिए मुख्यमंत्री लगातार दूसरे राज्यों के मुख्यमंत्री से संपर्क में है। उनको उन राज्यों में उत्तम सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। शिवराज सिंह चौहान ने अपनी चर्चा में कहा है कि बिन मौसम बरसात से हुए नुकसान पर किसान भाइयों को चिंता करने की कोई आवश्यकता नहीं है। उन्हें खाद बीज की कोई कमी नहीं होने दी जाएगी। न ही किसी जरूरी सामान की कमी की जाएगी। वहीं जनता से अपील करते हुए मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि इस समय प्रदेशवासी घर में ही रहें। हम अपने प्रदेशवासियों के लिए हर समय सहायता कर रहे हैं। सरकार सबके भोजन की व्यवस्था में जुटी हुई है। उनके पास राशन कार्ड नहीं उन्हें भी राशन दिया जाएगा। चौहान ने जनता से अपील की है कि वह सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखें। पीड़ित से सहानुभूति का भाव रखें। वही प्रदेश के स्वास्थ्य मुद्दे पर बात करते हुए मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि एक लाख टेस्ट किट का आर्डर दिया गया है। कोरोना के इलाज के लिए भी पूरी व्यवस्था की गई है। इलाज को लेकर लोगों को चिंता करने की कोई आवश्यकता नहीं है। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने जनता के लिए 1 लाख 70 हजार करोड का पैकेज दिया है। हम लोग कोरोना से लड़ेंगे और इससे जीतेंगे भी। प्रदेशवासियों से अपील है कि वह अपने परिवार को समय दे योग व्यायाम करते रहें प्रधानमंत्री जी की बातों का पालन करें और इलाज को लेकर किसी तरह की चिंता ना करें।

वही मुख्यमंत्री चौहान ने मेडिकल स्टाफ, पुलिस प्रशासन, सफाई कर्मी डॉक्टर स्वयंसेवी संस्था एवं पत्रकारों को बधाई देते हुए का के सभी लोग इस संकट के समय में अपने कर्तव्य का बहुत अच्छे ढंग से निर्वहन कर रहे हैं। डॉक्टर जान जोखिम में डालकर काम कर रहे हैं तो कहीं स्वयंसेवी संस्था भी मदद के लिए आगे आई हैं। पत्रकार मित्र लोगों को जागरूक करने का काम कर रहे हैं तो वहीं पुलिस प्रशासन मुस्तैदी से अपनी ड्यूटी में लगी हुई है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि समाज की ताकत हिम्मत देती है हमें विश्वास है कि कोरोना को लड़कर हम इसे अवश्य परास्त करेंगे। कोरोना से डरने की जरूरत नहीं बस लॉक डाउन का पालन करें क्योंकि घर पर रहकर ही कोरोना को हराया जा सकता है।