उपचुनाव से पहले CM Shivraj का बड़ा दावा- कांग्रेस के कई विधायक BJP में आने को तैयार, हलचल तेज

दरअसल CM Shivraj ने पार्टी दलबदल पर बड़ा बयान दिया।

कैबिनेट बैठक

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश में 30 अक्टूबर को उपचुनाव (MP By-election) होने हैं। इससे पहले नेताओं का एक दूसरे पर बयानों का सिलसिला जारी है। इसी बीच दलबदल भी देखने को मिल रहे हैं। बीते दिनों कांग्रेस के एक विधायक ने फिर से बीजेपी का हाथ थाम लिया है। इसके साथ ही अब तक 27 विधायक कांग्रेस पार्टी छोड़कर बीजेपी में शामिल हो चुके हैं। हालांकि कांग्रेस जहां अपने विधायकों पर पकड़ खोती जा रही है। वहीं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj) ने एक और खुलासा कर कांग्रेस को नई परेशानी में डाल दिया है।

दरअसल CM Shivraj ने पार्टी दलबदल पर बड़ा बयान दिया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी के चार विधायक अभी भी भाजपा में शामिल होने के लिए तैयार हैं। जितने भी लोग हैं, वह कांग्रेस में नहीं रहना चाहते हैं। अभी हाल ही में खंडवा में जन संबोधन के दौरान कांग्रेस पार्टी के विधायक सचिन बिरला कांग्रेस पार्टी का दामन छोड़ बीजेपी में शामिल हो गए। बीते साल जहां ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia) और उनके समर्थक विधायक Coongress और BJP में शामिल हो गए थे। इससे प्रदेश में कमलनाथ की सरकार गिर गई थी। हालांकि इसके बाद भी कांग्रेसी विधायकों का पलायन थमा नहीं और विशेष में कई जमीनी स्तर के दिग्गजों ने पार्टी का दामन छोड़ दिया।

Read More: MP के अतिथि शिक्षकों के लिए राहत भरी खबर, मानदेय भुगतान के आदेश जारी

हालांकि कांग्रेस का साथ छोड़ BJP में जाने वाले विधायकों की शिकायत यही रही है कि शीर्ष नेतृत्व द्वारा उनकी बात को ना सुना जा रहा है और ना ही उन्हें मिलने का समय दिया जा रहा है। पार्टी से उपेक्षित लगातार पार्टी छोड़ रहे हैं और कांग्रेस की सक्रियता में कमी का हवाला दे रहे हैं।

अब ऐसी स्थिति में प्रदेश में कांग्रेस की हालत खस्ताहाल है। दरअसल 30 अक्टूबर को प्रदेश में होने वाले उपचुनाव और आगामी सालों में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी दिग्गजों का पार्टी को छोड़ना पार्टी के शीर्ष नेताओं पर बड़ा प्रश्न चिन्ह लगा रहा है।

खैर कांग्रेस द्वारा विधायकों का पार्टी छोड़ दूसरे पार्टीथामने पर कांग्रेस के चुप्पी का कारण जो भी हो, लेकिन अब सीएम शिवराज ने यह कहकर मामला और गरमाया दिया है कि अब तक 27 विधायक के पाला बदलने के बाद कांग्रेस के दो चार विधायक और पार्टी में आने के लिए तैयार हैं। जिन्हें सीएम शिवराज ने कांग्रेस ने रोक रखा है। अब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के ऐसे दावे के बाद कांग्रेस की क्या प्रतिक्रिया होती है, यह देखना दिलचस्प होगा।