सीएम शिवराज सिंह

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में अनलॉक (Unlock 2021) की प्रक्रिया शुरु हो गई है, शुरुआत दौर में आज सोमवार 24 मई से 5 जिलों में छूट दी गई है और आगामी 1 जून को पूरे प्रदेश को चरणबद्ध तरीके से अनलॉक किया जाएगा, इसके पहले सीएम शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) संभाग स्तर पर बैठकें कर स्थितियों का जायजा ले रहे है। आज सागर संभाग की क्राइसिस मैनेजमेंट बैठक में शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि संपूर्ण बुंदेलखंड को 31 मई तक कोरोना मुक्त करके शर्तों के अनुसार अनलॉक करने की प्रक्रिया प्रारंभ की जाएगी।

यह भी पढ़े.. Transfer :मध्य प्रदेश के रीवा में पुलिसकर्मियों के थोकबंद तबादलें, यहां देखें लिस्ट

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने सागर संभाग (Sagar Division के समस्त जिलों में गठित क्राइसिस मैनेजमेंट की कमेटी के सदस्यों से वर्चुअल कान्फ्रेंस के माध्यम से चर्चा करते हुए कहा कि आप सभी के सहयोग से हमें 31 मई के पूर्व कोरोना संक्रमण से निजात पाना है। आपके सहयोग से ही तीसरी लहर को रोकने के लिए हर संभव प्रयास कर जन-जागरूकता अभियान चलाया जाएगा जिससे तीसरी लहर (Corona third wave) को रोका जा सके ।वैक्सीनेशन (Vaccination) के प्रति फैले भ्रम को दूर करने के लिए आप सभी जन-जागरूकता अभियान चलाकर सभी को प्रेरित करें कि वे वैक्सीनेशन अवश्य कराएँ।

सीएम शिवराज सिंह ने कहा कि, वैक्सीनेशन को लेकर अनेक प्रकार की शिकायतें प्राप्त हो रही हैं। इसको लेकर मंगलवार को भोपाल में बैठक कर वैक्सीनेशन को और सुलभ एवं सरल करने के लिए समीक्षा की जाएगी। कोरोना संक्रमण की जाँच अधिक से अधिक लोग करवायें। मैं भी प्रत्येक सप्ताह अपनी जाँच करवाता हूँ। कोरोना संक्रमण से प्रभावित हुए परिवारों को तत्काल लाभ देने के निर्देश दिए हैं। जिन बच्चों के माता-पिता का संक्रमण के कारण निधन हो गया है उन बच्चों के खातों में 30 मई तक 5000 रुपये की राशि हस्तांतरित करने के लिए समस्त प्रस्ताव तैयार करें।

यह भी पढ़े.. खंडवा कलेक्टर ने बताई वायरल ऑडियो-वीडियो के पीछे की पूरी सच्चाई

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि किल करोना अभियान निरंतर जारी रहेगा। अभियान के सर्वे के दौरान मिलने वाले ऐसे व्यक्ति जिनमें कोरोना के लक्षण हैं उन्हें, तत्काल मेडिकल किट प्रदान की जाये एवं आवश्यक हो तो उन्हें ट्रिपल सी में आइसोलेट किया जाए। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कोई भी ट्रिपल सी बंद नहीं किया जाएगा। समस्त जिला चिकित्सालय एवं मेडिकल कॉलेजों (Medical College) में जो भी व्यवस्था जारी है, उसे यथावत रखा जाए।