Congress Bharat Jodo Yatra : कवितामय हुए दिग्विजय सिंह, भारत जोड़ो यात्रा को लेकर किया ये आह्वान

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। कांग्रेस की ऐतिहासिक भारत जोड़ो यात्रा (Bharat Jodo Yatra) 7 सितंबर से शुरू होने जा रही है। मध्यप्रदेश कांग्रेस ने भी इसके लिए पूरी तैयारियां कर ली है। इसे लेकर लोगो, टैगलाइन और पैंपलेट लॉन्च कर दिया गया है। कश्मीर से कन्याकुमारी तक पूरी यात्रा 3500 किलोमीटर लंबी है और लगभग 12 राज्यों से गुजरेगी। इसी के साथ अलग अलग स्थानों पर पद यात्रा और रैलियां भी होंगी।

बीजेपी विधायक का दर्द, “संगठन सर्वोपरि तो बिना विश्वास में लिए कैसे बांट दिए गए पद”

भारत जोड़ो यात्रा को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री और राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह (Digvijay singh) अब कवितामय होते नजर आ रहे हैं। उन्होने अपने ट्विटर हैंडल पर एक कविता शेयर की है जिसमें क्रोध, रोष, द्वेष, प्रतिशोध छोड़ने का आह्वान किया गया है। उन्होने लिखा है-

क्रोध छोड़ो, रोष छोड़ो

द्वेष छोड़ो, विद्वेष छोड़ो

अवरोध छोड़ो, प्रतिशोध छोड़ो

नफ़रत छोड़ो, भारत जोड़ो

ध्वंस छोड़ो, विध्वंस छोड़ो,

पृथक छोड़ो, पृथकता छोड़ो

विघटन छोड़ो, वियोजन छोड़ो

नफ़रत छोड़ो, भारत जोड़ो

इस कविताा के माध्यम से दिग्विजय सिंह जनता से अपील कर रहे हैं कि सारी नकारात्मकता छोड़कर भारत जोड़ने की इस यात्रा में सहायक बनें। हालांकि उन्होने सीधे सीधे किसी का नाम नहीं लिया है, लेकिन क्रोध, रोष, द्वेष, अवरोध, प्रतिशोध और विध्वंस विघटन जैसे शब्दों के माध्यम से वो अपरोक्ष रूप से बीजेपी पर ही प्रहार कर रहे हैं। आज महान कवि और मध्यप्रदेश के गौरव श्रीकृष्ण सरल की पुण्यतिथि भी है। इस अवसर पर दिग्विजय सिंह का ये कविता प्रेम उनके अलहदा अंदाज को पेश कर रहा है।