इंदौर समेत ये सीटे होल्ड, बाकी पर नाम फायनल, आज-कल में जारी हो सकती है सूची

Congress-final-candidate-names-in-these-seats

भोपाल/नई दिल्ली।

कांग्रेस की केंद्रीय चुनाव समिति (सीईसी) ने मंगलवार को मध्यप्रदेश की 17 लोकसभा सीटों पर उम्मीदवार तय कर लिए हैं। वही तीन सीटों इंदौर, धार, विदिशा और भिंड को होल्ड किया गया है।वही छिंदवाड़ा से नकुलनाथ , गुना-शिवपुरी से ज्योतिरादित्य सिंधिया, जबलपुर से विवेक तन्खा, सीधी से अजय सिंह, खंडवा से अरुण यादव, मुरैना से रामनिवास रावत का नाम फायनल हुआ है। 

मंगलवार रात केंद्रीय चुनाव समिति द्वारा एक बीस प्रत्याशियों की लिस्ट जारी की गई है, उम्मीद की जा रही है समिति मध्यप्रदेश के फायनल उम्मीदवारों की आज बुधवार को घोषणा कर सकती है। चुंकी पहली चरण के नामांकन की प्रक्रिया दो अप्रैल से शुरु होने वाली है,जो नौ अप्रैल तक चलेगी। ऐसे में माना जा रहा है कि आज दोपहर तक कांग्रेस मध्यप्रदेश के 17  उम्मीदवारों की लिस्ट जारी कर सकती है।इसके पहले कांग्रेस ने नौ प्रत्याशियों की पहली सूची घोषित की थी।

इन सीटों पर नाम फायनल

जिन सीटों के प्रत्याशियों के नामों को केंद्रीय चुनाव समिति में भेजा गया है, उनमें  गुना से ज्योतिरादित्य सिंधिया, खंडवा से अरुण यादव, देवास से प्रहलाद टिपानिया, मुरैना से रामनिवास रावत, सागर से प्रभु सिंह, उज्जैन से नीतिश सिलावट, खरगोन से प्रवीणा बधान, रीवा से सिद्धार्थ राज तिवारी, दमोह से रामकृष्ण कुसमरिया, सीधी से अजय सिंह, जबलपुर से विवेक तन्खा, छिंदवाड़ा से नकुलनाथ, मंडला से भूपेंद्र वरकड़े और राजगढ़ से शिवनारायण मीणा के नाम शामिल हैं।

ग्वालियर-सतना को लेकर अब भी असमंजस की स्थिति

समिति ने ग्वालियर से अशोक सिंह का नाम आगे बढाया है, लेकिन  स्थिति अब भी असमंजस की बनी हुई है। यहां से सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया की पत्नी प्रियदर्शनी राजे को उम्मीदवार बनाए जाने की चर्चा थी, लेकिन सिंधिया ने उत्तरप्रदेश की चुनावी व्यस्तता और उनके गुना-शिवपुरी से चुनाव लड़ने के कारण प्रियदर्शनी राजे को ग्वालियर से चुनाव लड़ाए जाने से मना कर दिया है। इस वजह से इस सीट से अब अशोक सिंह या केदार कंसाना में से प्रत्याशी का चयन किया जाएगा। वही  सतना लोकसभा क्षेत्र भी है, जहां पूर्व विधानसभा उपाध्यक्ष राजेंद्र कुमार सिंह के साथ राजाराम त्रिपाठी का नाम भी जोड़ा गया है।

इन सीटों को किया होल्ड

वही तीन सीटों इंदौर, धार, विदिशा और भिंड को होल्ड किया गया है।पार्टी को यहां जिताऊ उम्मीदवार की तलाश है,इसलिए इन सीटों को होल्ड किया गया है। खास इंदौर को लेकर जबरदस्त मंथन किया जा रहा है क्योंकि यह प्रदेश की हाईप्रोफाइल सीट है, कांग्रेस की मंशा यहां से किसी बड़े चेहरे को मैदान में उतारने की है।कांग्रेस का फोकस इस बार कठिन सीटों पर जीत हासिल करना है, इसलिए भोपाल जैसे कठिन सीट पर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को उतारा गया है।

इन सीटों पर घोषित हो चुके है उम्मीदवार

कांग्रेस 9 सीटों पर प्रत्याशी घोषित कर चुकी है। इनमें भोपाल से दिग्विजय सिंह, रतलाम से कांतिलाल भूरिया, मंदसौर से मीनाक्षी नटराजन, शहडोल से प्रमिला सिंह, टीकमगढ़ से किरण अहिरवार, खजुराहो से कविता सिंह, होशंगाबाद से शैलेंद्र दीवान, बैतूल से रामू टेकाम और बालाघाट से मधु भगत का नाम शामिल है। इनमें से बैतूल, बालाघाट, टीकमगढ़ और शहडोल के प्रत्याशियों का विरोध हुआ है।कार्यकर्ताओं और स्थानीय नेताओं की घोषित प्रत्याशियों के खिलाफ नाराजगी सामने आई है।