कांग्रेस विधायक के बेटे पर शादी के नाम पर दुष्कर्म का आरोप, पीड़िता ने दी आत्मदाह की चेतावनी

इंदौर, आकाश धोलपुरे। बड़नगर से कांग्रेस विधायक मुरलीधर मोरवाल के बेटे और यूथ कांग्रेस के लीडर रह चुके करण मोरवाल पर एक युवती ने शादी के नाम पर झांसा देकर दुषकर्म करने का आरोप लगाया है। मंगलवार को युवती ने इंदौर रेंज के आईजी हरिनारायणचारि मिश्रा को शिकायत दर्ज कराई है, जिस पर आईजी ने निष्पक्ष रूप से कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

Indore News: लापरवाही पर गिरी गाज, ऊर्जा मंत्री के निर्देश पर 3 इंजीनियर निलंबित

दरअसल, अप्रैल माह में यूथ कांग्रेस के लीडर करण मोरवाल और पीड़ित युवती के संबंधों की दास्तान उस वक्त उजागर हुई थी जब युवती ने बड़नगर के कांग्रेस विधायक के बेटे करण मोरवाल के खिलाफ मोर्चा खोलकर प्रकरण दर्ज कराने की मांग पुलिस से की थी। युवती खुद भी यूथ कांग्रेस की सक्रिय नेता है और उसका आरोप है कि उसके साथ करण मोरवाल ने शादी का झांसा देकर दुष्कर्म किया। इस मामले को लेकर मीडिया के जरिये कई बातें जगजाहिर भी हुई थी लेकिन विधायक पुत्र करण मोरवाल पर दुष्कर्म का प्रकरण दर्ज होने के बावजूद गिरफ्तारी नहीं होने से निराश युवती ने अब इंदौर आईजी से मुलाकात कर उन्हें पूरे मामले से अवगत कराते हुए ज्ञापन सौंपा है। इसी के साथ पीड़िता ने चेतावनी दी है कि यदि उसे इंसाफ नहीं मिला तो वो आत्मदाह कर लेंगी।

युवती का आरोप है कि करण मोरवाल पहले भी कई लड़कियों के साथ ऐसी धोखाधड़ी कर चुका है लेकिन अपने पिता के रसूख के दम पर वो हमेशा बचता रहा है। युवती की मानें तो उसने कांग्रेस के सभी वरिष्ठ नेताओं यहां तक कि राहुल गांधी तक ये शिकायत पहुंचाई है लेकिन आज तक किसी ने इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं की। पीड़िता के मुताबिक उसने जब पहली बार शिकायत की थी तब से विधायक पुत्र और उसके परिवार द्वारा उसे धमकाया जा रहा है वही आरोपी बेटा युवती को धमकाता है। उसका कहना है कि युवक के पिता का कहना है कि वो कभी भी बीजेपी ज्वाइन कर शिवराज सरकार में शामिल हो जाएंगे। युवती ने अपनी पीड़ा जाहिर करते हुए सवाल किया कि कहा कि क्या शिवराज मामा ऐसे लोगों को अपनी सरकार में शामिल करेंगे जो रसूख के दम पर अवैध कब्जे और आपराधिक वारदातों को अंजाम देते हैं और उनके बच्चे लड़कियों के साथ दुष्कर्म करते हैं।

इतने गम्भीर आरोपों और सबूतों के साथ आईजी कार्यालय पहुंची युवती ने एक ही गुहार लगाई है कि उसे इंसाफ चाहिए। इधर,आईजी हरिनारायणचारि मिश्रा ने इस पूरे मामले पर साफ कहा कि पुलिस की विवेचना के बाद अपराध में प्रकरण दर्ज किया जा चुका है और अब तक कोई गिरफ्तारी क्यों नहीं की गई, इसकी जांच कर इस बात पर भी एक्शन लिया जाएगा। जिस भी अधिकारी की लापरवाही सामने आई उसके खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी। फिलहाल, इस पूरे मामले को ढंकने की कोशिश कौन, कैसे और क्यों कर रहा है ये पुलिस की जांच का विषय है लेकिन सवाल ये उठ रहा है कि क्या इतने रसूखदार व्यक्ति के बेटे पर लगे आरोपों को लेकर जल्द कार्रवाई की जाएगी या नहीं।