गंजबासौदा: 4 शव बरामद, कई लापता, सीएम ने किया मुआवजे का ऐलान, 19 का हुआ रेस्क्यू

गंजबासौदा

विदिशा, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (madhya pradesh) के विदिशा (vidisha) जिले के गंजबासौदा तहसील में अब तक में से 4 लोगों के शव निकाले जा चुके हैं। इसके अलावा NDRF की बचाव कार्य जारी है। कुएं के आसपास पुलिस और अधिकारियों के अलावा कई मंत्री भी मौके पर पहुंच चुके हैं। वहीं मध्यप्रदेश के इस घटना पर राज्यपाल मंगू भाई पटेल (mangubhai patel) ने शोक व्यक्त किया है जबकि कांग्रेस नेता राहुल गांधी (rahul gandhi) ने कांग्रेस जनों से बचाव कार्य में हर संभव मदद की अपील की है।

राहुल गांधी ने इस मामले में ट्वीट करते हुए शोक जताया है। वही मध्य प्रदेश के चिकित्सा स्वास्थ्य मंत्री विश्वास सारंग (viswas sarang) मौके पर पहुंचे हैं। जहां से वह मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (shivraj singh chauhan) को घटना की जानकारी दे रहे हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी इस घटना पर नजर बनाए हुए हैं। सीएम शिवराज मंत्रालय स्थित राज्य स्तरीय सिचुएशन रूम से गंजबासौदा के रेस्क्यू ऑपरेशन का समन्वय कर रहे हैं।उनके साथ मंत्री नरोत्तम मिश्रा भी मौजूद थे जबकि घटनास्थल से चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग उन्हें स्थिति से अवगत करवा रहे हैं। गंजबासौदा की घटना पर राज्य शासन ने मृतकों के परिवारजनों को 5 लाख की आर्थिक सहायता, घायलों को 50 हज़ार एवं नि:शुल्क इलाज की सहायता प्रदान करने का निर्णय लिया।

Read More: Indore News: रेलवे यार्ड में श्रम कानूनों का उल्लंघन, किया गया 6 मासूमों का रेस्क्यू

ज्ञात हो कि गुरुवार की शाम को लाल पठार गांव में स्थित एक कुएं में एक बालक के गिर जाने के बाद करीब 50 लोग कुएं के पास पहुंचे। जिसमें से कुएं की छत पर 25 से अधिक लोग खड़े थे। अधिक लोग के वजन के कारण हुए की छत गिर गई। जिससे कई लोग कुएं में गिर गए हैं। वहीं रात भर बचाव कार्य जारी रहा है। आज तड़के सुबह तक 4 शव निकाले गए हैं। सुबह 8:00 बजे से एनडीआरएफ की टीम ने बचाव कार्य जारी रखा है। करीबन दर्जनभर लोगों का रेस्क्यू कर लिया गया है। घर-घर जाकर सर्वे किया जा रहा कि मृतकों को छोड़कर 11 लापता लोगों की जानकारी जुटाई जा रही है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मृतकों के परिजनों को 5-5 लाख रुपए मुआवजे का ऐलान किया है।

गंजबासौदा की घटना पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि गंज बासौदा की दुर्भाग्यपूर्ण घटना में देर रात तक दो शव मिले थे, एक शव आज सुबह निकाला गया है। मैं लगातार घटना स्थल पर मौजूद प्रशासन से संपर्क में हूँ और बचाव कार्यों की निरंतर मोनिटरिंग कर रहा हूँ। राज्य शासन के प्रतिनिधि के तौर पर विदिशा के प्रभारी मंत्री विश्वास सारंग रात भर घटनास्थल पर मौजूद रहे, उनकी देखरेख में बचाव दल फसें हुए लोगों को बचाने में जुटे हुए हैं।