Employment: युवाओं के लिए बड़ी खुशखबरी, सरकार के इस फैसले से खुलेंगे रोजगार के अवसर

इसके साथ ही प्रदेश में उद्योग निवेश को बढ़ावा देने और स्टार्ट योर बिजनेस इन 30 डेज (Start Your Business in 30 Days) पर विशेष जोर दिया जा रहा है।

शिवराज सिंह चौहान

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। सत्ता में आने के बाद से ही मध्यप्रदेश (Madhya Prdesh) की शिवराज सरकार (Shivraj Government) का पूरा फोकस रोजगार (Employment) पर है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) भी मंच से भी कई बार ऐलान कर चुके है कि मध्यप्रदेश में हर महीने एक लाख रोजगार (Employment) के अवसर होंगे। हर साल 12 लाख रोजगार  के अवसर प्रदेश में बनाए जाएंगे। इसी कड़ी में गुरुवार को 8 अप्रैल को 45 जिलों में प्रदेश के 1891 सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों का प्रदेशव्यापी शुभारंभ करेंगे।

यह भी पढ़े… राष्ट्रीय शिक्षा नीति पर विभाग का फोकस, मंत्री इंदर सिंह परमार बोले- ड्राफ्ट का अध्ययन करें

दरअसल, नौकरी की राह देख रहे मध्य प्रदेश के बेरोजगार (Unemployment) युवाओं के लिए रोजगार (Employment) से जुड़ी बड़ी खबर है। गुरुवार 8 अप्रैल को मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान  प्रदेश के 1891 सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों का प्रदेशव्यापी शुभारंभ करेंगे।जिससे 30 हजार रोजगार के अवसर खुलने की संभावना है।इससे लाखों लोगों को रोजगार मिलने की उम्मीद है। मिंटो हॉल में प्रात: 11 बजे होने वाले इस राज्य स्तरीय वर्चुअल कार्यक्रम में उत्कृष्ट MSME इकाईयों एवं स्टार्टअप (Startup) का सम्मान और जिलों के उद्यमियों से संवाद भी मुख्यमंत्री चौहान द्वारा किया जाएगा।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश (Aatmanirbhar Madhya Pradesh)
के सकंल्प को पूरा करने की दिशा में तेजी से कदम बढ़ाया गया है। स्व-रोजगार (Employment) को बढ़ाने के लिये सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योगों (Industries) में बढ़ते निवेश (Investment) से प्रदेश सरकार (MP) का संकल्प पूरा होगा। इसके साथ ही प्रदेश में उद्योग निवेश को बढ़ावा देने और स्टार्ट योर बिजनेस इन 30 डेज (Start Your Business in 30 Days) पर विशेष जोर दिया जा रहा है।

यह भी पढ़े.. MP में टूटे सारे रिकॉर्ड, 4043 नए केस और 13 की मौत, साप्ताहिक हाट बाजार हो सकते है बंद

वही एक मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, मंत्री ओमप्रकाश सकलेचा ने दावा किया है प्रदेश में पहली बार एक साथ 45 जिलों में भूमि पूजन और लोकार्पण होगा। आजतक शायद ही पूरी दुनिया में एक साथ इतनी इंडस्ट्रीज का भूमि पूजन और लोकार्पण हुआ होगा। सरकार का लक्ष्य 2022 तक 5 हजार इंडस्ट्रीज अपना प्रोडक्शन चालू और 2 लाख लोगों को प्रत्यक्ष रोजगार के साथ-साथ 5 लाख लोगों को अप्रत्यक्ष रोजगार मिले है। ​8 अप्रैल को बताएंगे कि कौन-कौन से उद्योग है और कितना निवेश किया जाएगा और कितनों को रोजगार मिलेगा।

कार्यक्रम पर एक नजर

  •  इन उद्यमों में 4200 करोड़ रूपये के निवेश के साथ 50 हजार युवाओं को रोजगार (Employment) मिलेगा। कार्यक्रम में विभाग की सहायता से अपना उद्योग या स्टार्टअप को आगे बढ़ाने वाले उद्यमियों पर फोकस किया गया है।
  • विभागीय गतिविधियों एवं योजनाओं को और उत्कृष्ठ बनाकर कार्य करने वाले उद्यमियों की जानकारी प्रदान कर लोगों में प्रेरणा का माहौल निर्मित होगा।
  • यह एक अभूतपूर्व कार्यक्रम होगा, जिसमें प्रदेश के एक साथ इतनी बड़ी संख्या में एमएसएमई का शुभारंभ किया जाएगा, जो कि प्रदेश के सामाजिक एवं आर्थिक विकास और औद्योगीकरण के लिये सरकार की प्रतिबद्धता का बड़ा है।
  • इन उद्यमियों में से लगभग 100 उद्यमी भोपाल के मिंटो हॉल में मौजूद रहेंगे।
  • इसके अतिरिक्त उद्योग जगत के प्रतिनिधि भी उपस्थित रहेंगे।
  • प्रदेश के जिलों में स्थानीय स्तर पर भी कार्यक्रम आयोजित किये गए है।
  • मुख्यमंत्री चौहान द्वारा उद्यमों के शुभारंभ के पश्चात कुछ जिलों के उद्यमियों से संवाद भी किया जाएगा।
  • प्रदेश में उत्कृष्ठ कार्य करने वाली एमएसएमई एवं स्टार्टअप में से कुछ को कार्यक्रम में सम्मानित भी किया जाएगा।
  • इस सम्मान हेतु उन्हें विभाग की ओर से प्रशस्ति पट्टिका प्रदान की जाएगी।
  • कार्यक्रम में सभी जिलों के उद्यमी एवं प्रतिभागी वेबकास्ट के माध्यम से जुड़े रहेगे, जिनसे मुख्यमंत्री रूबरू होंगे। कार्यक्रम का उद्देश्य लोगों में औद्योगीकरण की जागरूकता पैदा करना है