Bhind News: जहरीली शराब पीने से पिछले 7 दिन में हुई 7 लोगों की मौत!

यह मामला मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में कांग्रेस (Congress) सरकार में मंत्री रहे डॉ गोविंद सिंह ने उजागर किया है। गोविंद सिंह ने प्रदेश में शराब माफिया सक्रिय होने की बात कही है।

Poisonous liquor
Poisonous liquor

भिण्ड, गणेश भारद्वाज। जिले (Bhind) के लहार विधानसभा क्षेत्र के उत्तर प्रदेश से सटे गांवों और कुछ उत्तर प्रदेश के इलाके में नकली शराब पीने से एक के बाद एक सात लोगों की मौत का मामला सामने आया है। हालांकि इस बात की पुष्टि जिला प्रशासन आबकारी विभाग या पुलिस के द्वारा नहीं की गई है। लेकिन, पड़ोसी जिले मुरैना में पिछले कुछ महीनों पूर्व नकली शराब पीने से या यूं कहें जहरीली शराब पीने से 24 लोगों की  मौत हुई थी।

ये भी पढे़- College Exam 2021:उच्च शिक्षा मंत्री ने अधिकारियों को दिए निर्देश, इन जिलों को होगा लाभ

इसके बाद अब भिंड (Bhind) से यह सनसनीखेज मामला सामने आया है। बता दें कि यह मामला मध्यप्रदेश में कांग्रेस सरकार में मंत्री रहे डॉ गोविंद सिंह ने उजागर किया है। गोविंद सिंह ने प्रदेश में शराब माफिया सक्रिय होने की बात कही है और इन जहरीली शराब से हुई मौतों की उच्चस्तरीय जांच हो मृतको को 10 -10, लाख मुआवजा देने की मांग की है।

लहार क्षेत्र के ग्राम जेतपुरा गुडा निवासी हरेंद्र सिंह उर्फ डुग्गी लाल 45 वर्ष ,अशोक उर्फ बड़े 50 वर्ष, असनेट निवासी संजय सिंह 40 वर्ष, बल्लू काछी 35 वर्ष, उत्तम तोमर मुरैना से असनेट आए थे। लहार से सटे उत्तर प्रदेश निवासी मनोज शर्मा 42 बर्ष व कमल सिंह खगार की भी जहरीली शराब पीने से मृत्यु हो गई।

ये भी पढे़- भांजे को मौत के घाट उतारने वाले मामा को Court ने सुनाई आजीवन कारावास की सजा

लहार विधायक डॉ गोविन्द सिंह ने व्यापक पैमाने पर जहरीली शराब बेचने वालों पर कड़ी कार्यवाही व उच्च स्तरीय जांच एवम मृतको को 10-10 लाख रुपए का मुआवजा दिए जाने की शासन से मांग की है। प्रदेश कांग्रेस महामंत्री खिज़र क़ुरैशी ने भिण्ड जिले भर में अवेध जहरीली शराब पर शीघ्र प्रतिबंध लगाने व शराब माफियाओ के खिलाफ कठोर कार्यवाही की मांग की है। यहां हम बता दें कि भिंड पुलिस के द्वारा पिछले दो से तीन महीनों में जहरीली और नकली शराब माफिया के खिलाफ कुछ बड़ी कार्रवाई जरूर की गई है।