नवजीवन ने किया प्रोत्साहित, तो किन्नर सपना व 2 महिलाओं सहित 17 ने किया स्वेच्छिक रक्तदान

भिण्ड| गणेश भारद्वाज|

नवजीवन सहायतार्थ संगठन के बैनर तले आज एक किन्नर सहित दो महिलाओं व 14 युवकों ने जिला अस्पताल में आयोजित विशाल रक्तदान शिविर में पहुंचकर रक्तदान किया । इस रक्तदान की सबसे बड़ी विशेषता यह रही कि आज यहां भिंड में सबसे पहले नगर में ही निवास करने वाली किन्नर सपना शर्मा ने भी रक्तदान किया और जनसामान्य को रक्तदान के लिए प्रेरित करने का काम किया।

इस मौके पर सिविल सर्जन डॉ अजीत मिश्रा नवजीवन सहायतार्थ संगठन की संयोजिका नीतेश जैन , नम्रता जैन,आलोक दैपुरिया,अमित जैन,  गणेश भारद्ववाज,पिंकू शर्मा, हनी जादौन इंसानियत, अशोक तोमर अटेर, जयदीप राजावत, गगन शर्मा, मनीष जैन, गौरव जैन, चक्रेश जैन, व ब्लड बैंक से महेश बोहरे, कुमारी करुणा ,  प्रदीप व जयदीप के अलावा काफी संख्या में गणमान्य जन उपस्थित रहे । यहां उपस्थित सभी गणमान्य जनों का नवजीवन के समर्पित कार्यकर्ता धीर सिंह कुशवाह के द्वारा आभार व्यक्ति किया गया ।

ये रहे आज के स्वेक्षिक रक्तदाता अविनाश,गौरव सिंह, हरज्ञान, पवन गुप्ता,रामकेश कुशवाह, धीर सिंह कुशवाह, वीरेंद्र ,अवधेश , नीतू जैन,माया जैन,निखिल इंसानियत , सौरभ सिंह ,नितिन यादव ,राम लखन,आनंद कुशवाह,सपना शर्मा किन्नर ,रजत श्रीवास्तव।

 

संगठन के समर्पित कार्यकर्ता धीर सिंह कुशवाहा ने कहा कि स्वेक्षिक रक्तदान के द्वारा रेयर ब्लड  ग्रुप भी आसानी से ब्लड बैंक में उपलब्ध हो जाता है जिससे रक्त की कमी वाले मरीज के अटेंडर को ज्यादा भागदौड़ नहीं करनी पड़ती । इसके अलावा रक्त दान के क्षेत्र में लगे सामाजिक कार्यकर्ताओं  को  भी रक्तदान करवाने में आसानी होती है  स्वैच्छिक रक्तदान करने पर रेड क्रॉस सोसाइटी के द्वारा रक्तदाता कार्ड भी दिया जाता है। जिससे जिसे जमा करके कोई भी रक्तदाता ब्लड बैंक से 1 यूनिट ब्लड अपने मरीज के लिए ले सकता है स्वैच्छिक रक्तदान ना होने की स्थिति में ब्लड बैंक में ब्लड जमा नहीं हो पाता जिससे मरीज अटेंडर को काफी सामना करना पड़ता है। ऐसी स्थिति में एक सामान्य सा ब्लड ग्रुप भी मरीज की जान के लिए खतरा बन सकता है। अतः उपरोक्त समस्याओं व्  लाभ को देखते हुए हम सभी को स्वैच्छिक रक्तदान करना चाहिए।

नवजीवन ने दी दिशा अब सबको करूंगी प्रेरित – सपना किन्नर

सपना शर्मा किन्नर ने कहा कि- मुझे नवजीवन सहायतार्थ संगठन के द्वारा सूचना मिली जिससे में इस पुनीत कार्य में सहभागी बन सकी ।रक्तदान महा दान होता है इससे लोगों की जान बचाई जाती है  मुझे नहीं लगता कि इससे बड़ा भी कोई दान होता है आज मेरे द्वारा चौथी बार रक्तदान किया गया और आप सभी से भी निवेदन है की आप सभी भी रक्तदान जैसे पुनीत कार्य में सहयोगी बने व अन्य लोगों को प्रोत्साहित करें ।

और मुझे ख़ुशी है कि नवजीवन सहायतार्थ संगठन के द्वारा इस महान और पुनीत कार्य को भिण्ड में बढ़ावा दिया जा रहा है ।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here