शाम को शिवराज के घर BJP विधायकों की दावत, उधर दिल्ली में बड़ी बैठक

भोपाल। एमपी में 17 दिनों से चल रही खेल का अंत हो गया है। कमलनाथ ने फ्लोर टेस्ट से पहले हार मान ली है और राज्यपाल को इस्तीफा सौंप दिया है।नई सरकार बनने तक वे कार्यवाहक मुख्यमंत्री के पद पर रहेंगे , हाालांकि इस दौरान कोई नीतिगत फैसले नही लिए जाएंगे।इस घटनाक्रम के बाद भाजपा खेमे में उत्साह है। इसी खुशी के चलते शिवराज ने पार्टी के सभी विधायकों को अपने घर दावत पर बुलाया है। इसे डिनर डिप्लोमेसी की तरह देखा जा रहा है।पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान के बंगले की भी सुरक्षा बढ़ाई गई है । इलाके का ट्रैफिक भी डायवर्ट किया गया है।कमलनाथ के इस्तीफा देते ही शिवराज सिंह चौहान का ट्वीट भी आया है। शिवराज ने ट्वीट कर लिखा- सत्यमेव जयते

अब सवाल ये है कि अगला सीएम कौन होगा। बीजेपी विधायक गोपाल भार्गव का कहना है कि अगले सीएम को लेकर कहा कि पार्टी हाईकमान जैसा निर्देश देगी, उसके हिसाब से ही फैसला होगा।वही दिल्ली में केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर के आवास पर बैठकों का दौर जारी है। एमपी को लेकर आगे की रणनीति तैयार की जा रही है।

इससे पहले विधायकों की बैठक में भाजपा मध्यप्रदेश प्रभारी विनय सहस्त्रबुद्धे, पूर्व सीएम शिवराज सिंह, प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय प्रमुख भूमिका में थे। गुरुवार शाम को सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद शिवराज कुछ नेताओं के साथ सीहोर के हनुमान मंदिर में गए थे। वहीं, शर्मा ने कुछ विधायकों के साथ गणेश मंदिर में दर्शन किए। इसके बाद शुक्रवार सुबह सभी विधायकों ने रिजॉर्ट के अंदर ही बने शिवजी के मंदिर में दर्शन किए। कुछ विधायकों ने जिम में पसीना बहाया तो कुछ ने योग किया।