खंडवा उपचुनाव से पहले सियासी हलचल तेज, अरुण यादव को लेकर नरोत्तम मिश्रा का बड़ा बयान

नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि कहा कि कमलनाथ ने आरोप आईना के सामने खड़े होकर लगाया गया है, आप को ही दाग अच्छे लगते है।

नरोत्तम मिश्रा

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश में उपचुनाव (MP By Election) से पहले सियासी पारा हाई है।खंडवा सीट से अब तक कांग्रेस के सबसे प्रबल दावेदार माने जा रहे पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव के नाम वापस लेने पर राजनैतिक गलियारों में हलचल तेज हो चली है, इसी बीच  मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा (Home Minister Dr Narottam Mishra) का बड़ा बयान सामने आया है।

यह भी पढ़े.. EPFO : PF खाते से जुड़ी कर्मचारियों के लिए बड़े काम की खबर, ऐसे समझे पूरी प्रक्रिया

नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि पिछड़े वर्ग के नेताओं को अपमानित करना कांग्रेस का पुराना इतिहास रहा है, जहां तक अरुण यादव जी (Arun Yadav) के उपचुनाव लड़ने से इंकार की बात है तो इसकी पटकथा कमलनाथ जी और उनके समर्थक बहुत पहले से ही लिख रहे थे। कमलनाथ रेस लगाने की चुनौती देते है और खुद की पार्टी में ढाई घर चलते है। अगर आप किसी के जमीर पर हमला करोगे तो वह ‘अरुण यादव’ ही बनेगा।

नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि कांग्रेस (MP Congress) हताशा के दौर में आ गई है कांग्रेस कार्यकर्ता निराश हो गए है।कांग्रेस में भगदड़ का माहौल है आपने खंडवा और जोबट का देख लिया अब आगे आगे देखिए होता है क्या?बिजली व्यवस्था जैसी है वैसे ही यथावत चलती रहेगी, बिजली संकट जैसी कोई आशंका नहीं है।

यह भी पढ़े.. मप्र के किसानों के लिए अच्छी खबर, शिवराज सरकार ने लिया बड़ा फैसला

पीसीसी चीफ कमलनाथ (Kamal Nath) द्वारा पूछे गए भ्रष्टाचार के सवाल पर नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि कहा कि कमलनाथ ने आरोप आईना के सामने खड़े होकर लगाया गया है, आप को ही दाग अच्छे लगते है।सिख दंगे का दाग किस पर लगा है।कमलनाथ पर दाग लगने की सीरीज आ सकती है। वल्लभ भवन को दलाल स्ट्रीट बनाने वाले कमलनाथ आईने के सामने खड़े रहकर स्वयं की बात कर रहे हैं और आरोप दूसरों पर लगा रहे हैं। दिल्ली के सिख दंगे , अगस्ता वेस्टलैंड , तबादला उद्योग जैसे अनगिनत दाग नजर आएंगे।

यूपी घटना पर सीएम ने दिए जांच के आदेश

इसके अलावा उत्तरप्रदेश के लखीमपुर खीरी में हुई घटना पर गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि मौत कोई भी हो दुखद होती है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखीमपुर खीरी की दुर्भाग्यपूर्ण घटना की जाँच के आदेश दे दिए हैं। लाशों पर राजनीति नही होना चाहिए, विपक्ष मौतों पर राजनीति कर रहा हैं। कांग्रेस किसानो के नाम पर आशन्ति फैलाने का काम कर रही है।