वरिष्ठ कांग्रेस नेता का पार्टी से इस्तीफा, वैचारिक मतभेद को बताया कारण

भोपाल। मप्र में 24 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव से पहले राजनीतिक दलों में बयानबाजी के साथ ही इस्तीफों का दौर भी जारी हैं। इसी कड़ी में शनिवार को वरिष्ठ कांग्रेस नेता धीरज पटेरिया ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने अपना इस्तीफा प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ को भेज दिया है। इस्तीफा देने के पीछे कारण उन्होंने पार्टी से वैचारिक मतभेद को बताया है। इससे पहले धीरज पटेरिया 2018 विधानसभा चुनाव से भाजपा से इस्तीफा देकर कांग्रेस में शामिल हुए थे।

वरिष्ठ नेता धीरज पटेरिया ने शनिवार को पत्रकारों को इस्तीफे की जानकारी देते हुए बताया कि अब कांग्रेस में काम करने का नहीं बन पाया है। वैचारिक अंतद्र्वंद्व की वजह से इस्तीफा दिया है। आगे की रणनीति के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि फिलहाल में किसी पार्टी को ज्वाइन नहीं करुंगा। मेरे कुछ साथी, अब उनके पास जाना चाहता हूं, उनके साथ ग्रुप डिस्कशन करूंगा। उसके बाद आगे क्या करना है इस पर फैसला लूंगा। तब तक तरुण शक्ति नामक सामाजिक संस्था के माध्यम से जनसेवा का कार्य किया जाएगा। बताते चले कि बता दें कि धीरज पटेरिया बीजेपी युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष भी रह चुके हैं। धीरज पटेरिया जबलपुर में पूर्व मंत्री शरद जैन के खिलाफ चुनाव लड़ चुके है। उन्होंने 5 नवंबर 2018 को बीजेपी से इस्तीफा दिया था और उसके बाद कांग्रेस में शामिल हो गए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here