भोपाल| इंदौर के टाटपट्टी बाखल में कोरोना संक्रमण की स्क्रीनिंग करने पहुंची डॉक्टरों की टीम पर हमले की घटना की हर कोई निंदा कर रहा है| टीम पर पथराव करने वाले मुख्य आरोपी समेत 4 को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया| मामले में कलेक्टर ने सख्त एक्शन लेने की बात कही। वहीं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी कड़ा रुख अपनाया है| इस बीच वरिष्ठ नेता व पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी इस घटना की कड़ी निंदा करते हुए सीएम से दोषियों पर करवाई और सभी डॉक्टर्स व अन्य सहयोगियों को पूरी सुरक्षा प्रदान करने की मांग की है|

भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ट्वीट करते हुए लिखा- “इंदौर में कोरोना की जांच के लिए गए डॉक्टरों के दल पर पथराव की खबर दुखद एवं निंदनीय है। हमारे देश और प्रदेश के सभी डॉक्टर्स और स्वास्थ्य कर्मी अपनी जान की परवाह किए बिना, परिवार से दूर रहकर नागरिकों की देखभाल और सेवा में लगे हुए हैं। उनके साथ इस तरह की घटना अक्षम्य है। ”

एक अन्य ट्वीट में सिंधिया लिखते हैं- “मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी से मेरा अनुरोध है कि मानव सेवा के कार्य में लगे ऐसे सभी डॉक्टर्स अन्य सहयोगियों को पूरी सुरक्षा प्रदान की जाए। साथ समाज और मानवता से खिलवाड़ करने वाले दोषियों को चिन्हित कर उनके खिलाफ कठोरतम कार्यवाही की जाए।”

गौरतलब है कि इंदौर के टाट पट्टी बाखल इलाके में एक शख्स की कोरोना संक्रमण से मौत हो गई थी| उसके संपर्क में जो लोग भी आए स्वास्थ्य विभाग की टीम उनकी स्क्रीनिंग के लिए गई थी,इस दौरान लोगों ने स्वास्‍थ्य विभाग की टीम का विरोध किया और गुस्से भीड़ ने टीम के साथ मारपीट और पथराव किया| इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है| ऐसे समय में जब डॉक्टर्स लोगों की जान बचाने की मुहीम में जुटे हुए हैं, इस तरह की घटना की लोग कड़ी निंदा कर रहे हैं|