सिंधिया के लिए शिवराज के इस शब्द पर मचा बवाल

भोपाल। दिल्ली से भोपाल भाजपा मुख्यालय पहुंचे ज्योतिरादित्य सिंधिया के स्वागत समारोह में पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा बोले गए एक शब्द पर बवाल मच गया है। दरअसल अपने भाषण के दौरान ज्योतिरादित्य सिंधिया की तारीफ करते-करते शिवराज बोल गए “अब रावण की लंका में आग लगाने का वक्त आ गया है । लेकिन आग लगाने के लिए और लंका को पूरी तरह दहन करने के लिए विभीषण की जरूरत होती है और अब सिंधिया हमारे साथ हैं।।”

कांग्रेस के प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने ट्वीट करते हुए कहा है कि शिवराज द्वारा सिंधिया के बारे में इस शब्द के प्रयोग से समझा जा सकता है कि आने वाले समय में बीजेपी में सिंधिया की क्या भूमिका होने वाली है। सलूजा ने ट्वीट में लिखा है कि विभीषण को आज भी किसी जगह पर सम्मान से नहीं देखा जाता। हालांकि अपने भाषण में शिवराज ने जमकर ज्योतिरादित्य की तारीफ की और यह भी कहा कि सिंधिया जमीनी नेता है और जनसेवा उनकी पृष्ठभूमि रही है। उन्होंने यह भी कहा कि सिंधिया की कांग्रेस में यह दशा उनके सच बोलने के कारण हुई है। कमलनाथ सरकार पर तीखे प्रहार करते हुए शिवराज ने कहा इस सरकार ने भ्रष्टाचार के नए कीर्तिमान गढे हैं और वल्लभ भवन दलाली का अड्डा बन गया है।

सिंधिया के लिए शिवराज के इस शब्द पर मचा बवाल