इंदौर में पकड़े गए हाईप्रोफाइल सेक्स रैकेट के भोपाल से जुड़े तार, टूरिस्ट वीजा पर लाई जाती है विदेशी लड़कियां

भोपाल, हरप्रीत कौर रीन। इंदौर में गुरुवार को पकड़े गए हाईप्रोफाइल सेक्स रैकेट के तार भोपाल से जुड़े हुए सामने आए है, वही इंदौर पुलिस के हत्थे चढ़े मुनीर ने भी बड़े खुलासे किए है, दरअसल इंदौर पुलिस ने 11 महीने पहले लसूड़िया और विजय नगर इलाकों में ऑपरेशन चलाकर 15 लड़कियों को पकड़ा था। मामले में सागर उर्फ सैंडो, आफरीन आमरीन व अन्य लोग आरोपी बनाए गए थे। और इस मामले का मुख्य आरोपी मुनीर फरार हो गया था, जिसे अब गुरुवार को पुलिस ने सूरत से पकड़ा है, पूछताछ में मुनीर ने बताया सेक्स रैकेट से जुड़ा गिरोह लड़कियों की पहले कोलकाता, फिर मुंबई में ट्रेनिंग कराता है।

MP Panchayat Election: तैयारियां तेज, राज्य निर्वाचन आयोग ने मांगा आरक्षण का ब्यौरा

वही गुरुवार को इंदौर के लसूड़ीया थाना पुलिस के हत्थे चढ़े हाईप्रोफाइल सेक्स रैकेट में जांच में यह भी सामनें आया है की भोपाल में टूरिस्ट वीजा पर कॉल गर्ल विदेशों से आ रही है। और हर महीने करीब 50 से 60 लड़कियां भोपाल में विदेशों से आती है। वही हफ्ते में शुक्रवार, शनिवार को भोपाल में  सबसे ज्यादा विदेशी लड़कियां आती है, जिन्हें भोपाल के साथ दूसरे जिलों की बड़ी होटलों में देह व्यापार के लिए लड़कियों को रुकवाया जाता है। मुनीर और इस पकड़े गये सेक्स रैकेट का भी कनेक्शन पुलिस खोज रही है।

पुलिस मौजूदगी में तस्कर बाबू सिंधी ने बंदूक से काटा केक, अब एसपी ने तत्काल टीआई को किया लाइन अटैच

इंदौर SIT के साथ इंटेलिजेंस भी इस मामले में अपने स्तर पर जांच कर रही है। वही पकड़े गए आरोपी मुनीर के बारे में भी खुलासा हुआ है। कि 5 साल में 200 से ज्यादा बांग्लादेशी लड़कियों को भारत लाकर प्रॉस्टीट्यूशन में धकेल चुका है।
आरोपी मुनीर ने इन 200 में से 75 लड़कियों से फर्जी शादी की और फिर उन्हें इस काम में लगा दिया। आरोपी मुनीर को इंदौर पुलिस ने गुरुवार को सूरत से पकड़ा था। इंदौर भोपाल के साथ ही मुनीर ग्वालियर पुणे मुंबई बेंगलुरु में भी लड़कियां की सप्लाई का बड़ा नेटवर्क है। वही मुनीर लड़कियों को अवैध तरीके से बॉर्डर पार कराकर भी लाया है।

सरकार की बड़ी घोषणा, इन पूर्व कर्मचारियों को मिलेगा 3 महीने का वेतन

पुलिस के मुताबिक मुनीर पर 10 हजार रुपए का इनाम था। वह बांग्लादेश के जसोर का है। ज्यादातर लड़कियों से उसने शादी की और फिर इंडिया में लाकर बेचा। उसके पीछे बड़ा नेटवर्क है। मुनीर से पता चला है कि सेक्स रैकेट से जुड़ा गिरोह लड़कियों की पहले कोलकाता, फिर मुंबई में ट्रेनिंग कराता है। इसके बाद डिमांड पर लड़कियों को देश के दूसरे शहरों में सप्लाई किया जाता है। लड़कियों को बांग्लादेश और भारत के पोरस बॉर्डर पर नाले के रास्ते लाया जाता है। बॉर्डर के पास के छोटे गांव में एजेंट्स लड़कियों को मुर्शिदाबाद और आसपास के ग्रामीण इलाकों में लाकर ही भारत में एंट्री करवाते हैं। फिलहाल पुलिस मुनीर से और पूछताछ कर रही है।