Damoh : अतिक्रमण हटाने गए वन अमले पर अतिक्रमणकारियों ने किया हमला, कलेक्ट्रेट कार्यालय में भी किया हंगामा

वन अमले के द्वारा परशुराम टेकरी पर एक समुदाय के द्वारा किए गए अतिक्रमण के बाद उनको हटाने की कार्रवाई की गई। तो वहीं वहां पर गुस्साए अतिक्रमणकारियों के द्वारा वन अमले पर हमला किया गया।

दमोह, आशीष कुमार जैन। दमोह (Damoh) जिले में लगातार ही वन अमले के द्वारा अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई की जा रही है। इसी मामले को लेकर एक बार फिर वन अमले के द्वारा परशुराम टेकरी पर एक समुदाय के द्वारा किए गए अतिक्रमण के बाद उनको हटाने की कार्रवाई की गई। तो वहीं वहां पर गुस्साए अतिक्रमणकारियों के द्वारा वन अमले पर हमला किया गया।

यह भी पढ़ें…Indore : पिकनिक मनाने गए दोनों मृतक छात्रों के शव मिले, पोस्टमार्टम के लिए भेजी गई डेड बॉडी

कलेक्ट्रेट कार्यालय में किया हंगामा
जनकारी के अनुसार वन अमले के द्वारा की गई कार्रवाई के दौरान अतिक्रमणकारियों के द्वारा हमले पर हमला किया गया। जिसके बाद कुछ वनकर्मीे घायल हुए हैं। जिन्हें जिला अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है। हमले के बाद अतिक्रमणकारियों ने जिला कलेक्ट्रेट कार्यालय में हंगामा भी किया। जहां पर महिलाएं कलेक्ट्रेट कार्यालय का गेट जबरदस्ती खोल कर अंदर घुस गई। और जैम कर चिल्ला-चोट की। वहीं वन कर्मियों पर आरोप लगाया कि वन कर्मियों के द्वारा अतिक्रमण हटाए जाने के दौरान गर्भवती महिलाओं से मारपीट की गई है। जिस पर ज्ञापन देकर कार्रवाई की मांग भी की गई है। एक और जहां शासकीय कार्य में बाधा तो दूसरी तरफ अतिक्रमणकारियों के द्वारा महिलाओं के साथ मारपीट का इल्जाम लगाया गया है। मामले पर पुलिस जांच कर रही है। पुलिस का कहना है कि जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी, वहीं शासकीय कार्य में बाधा का मामला भी दर्ज होगा।

इस मामले में वन विभाग का कहना है कि ग्रामीणों को कई बार अतिक्रमण न करने की समझाइश दी थी और अवैध अतिक्रमण करने के लिए मना भी किया गया। बावजूद इसके ग्रामीणों द्वारा लगातार निर्माण किया जा रहा था। जिसके बाद आज वन अमले द्वारा अतिक्रमण हटाने के लिए मौके पर जाया गया। जहां पर काफी संख्या में ग्रामीणों ने वन अमले पर हमला कर दिया। जिसमें हमारे वन कर्मी घायल हुए हैं जिनका जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है।

यह भी पढ़ें… MP Assembly 2021 : 9 अगस्त से शुरु होगा विधानसभा का मानसून सत्र, अधिसूचना जारी