दमोह: वन माफियाओं के हौसले बुलंद, वनरक्षक पर प्राणघातक हमला

दमोह, गणेश अग्रवाल| जिले में वन माफियाओं के हौसले बुलंद हैं| लगातार माफिया जहां वन भूमि पर कब्जा कर रहे हैं तो वही शासकीय कर्मियों पर हमला भी कर रहे हैं| ताजा मामला दमोह की एरोरा बीट का है, जहां पर एक वन कर्मी पर जानलेवा हमला किया गया| वन कर्मी को गंभीर हालत में जिला अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है|

जिले की वन एरोरा बीट में पदस्थ मयंक विश्वकर्मा वन कर्मी पर उस समय हमला हो गया, जब वे अपने बीट में वनों की रक्षा कर रहे थे| मामले के मुताबिक स्थानीय लोगों द्वारा वन भूमि पर अवैध उत्खनन अवैध कटाई एवं वन भूमि पर कब्जा किया जा रहा था| जिसको लेकर वनरक्षक द्वारा आपत्ति दर्ज कराते हुए मना किया गया था| जिस बात से खफा होकर वन कर्मी पर दबाव बनाने के लिए उस पर प्राणघातक हमला किया गया. लाठी-डंडे सहित अन्य हथियारों से उस पर हमला किया गया|

इस गांव के करीब 10 लोगों ने एक राय होकर हमला किया| जिससे मयंक विश्वकर्मा, वन रक्षक गंभीर रूप से घायल हो गया| जिसे इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है| वनरक्षक ने अपने ऊपर हुए हमले के बारे में जानकारी दी|